नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने आने वाले वर्षों में गुजरात में भारी निवेश किए जाने की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि उनकी कंपनी अगले 10 सालों के दौरान इस राज्य में 3 लाख करोड़ रुपये तक का निवेश करेगी। उन्होंने कहा कि रिलायंस की तरफ से किया जाने वाला निवेश ऊर्जा, पेट्रोकेमिकल्स से लेकर तकनीक और डिजिटल बिजनेस में होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज गुजरात के जामनगर में दुनिया की सबसे बड़ी पेट्रोकेमिकल्स रिफाइनरी चलाती है। वाइब्रेंट गुजरात समिट के 9वें संस्करण में अंबानी ने कहा, 'गुजरात, रिलायंस की जन्मभूमि के साथ कर्मभूमि भी है। गुजरात हमेशा से हमारी प्राथमिकता में था और आगे भी रहेगा।' हाल ही में रिलायंस ने टेलीकॉम बिजनेस में बड़ा निवेश किया है।

अंबानी ने कहा, 'हमने अभी तक राज्य में 3 लाख करोड़ रुपये तक का निवेश किया है, जिससे करीब दस लाख लोगों से अधिक को रोजगार मिला है। पिछले दशक के मुकाबले रिलायंस अगले दस सालों में दोगुने से अधिक का निवेश करेगी, जिससे रोजगार के मौके भी दोगुने होंगे।' उन्होंने कहा कि जियो का नेटवर्क पूरी तरह से 5जी के लिए तैयार है और कंपनी का टेलीकॉम और रिटेल डिवीजन जल्द ही छोटे खुदरा दुकानदारों को जोड़ने के लिए नया कॉमर्स प्लेटफॉर्म बनाएगा। हालांकि उन्होंने इस बात की जानकारी नहीं दी कि जियो कब 5G की शुरुआत करेगा। जियो ने 2016 में टेलीकॉम बिजनेस की शुरुआत की थी।

अंबानी ने कहा, 'आज गुजरात जियो के 4जी वायरलेस ब्रॉडबैंक नेटवर्क की मिसाल पेश करता है। जियो का नेटवर्क 5जी के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसका मतलब यह हुआ कि गुजरात आने वाले दिनों में भी डिजिटल कनेक्विविटी के मोर्च पर अग्रणी बना रहेगा।' उन्होंने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन पंडित दीनदयाल यूनिवर्सिटी में 150 करोड़ु रुपये का निवेश करेगा।

हाल ही में रिलायंस एक तिमाही में 10,000 करोड़ रुपये मुनाफा कमाने वाली पहली भारतीय कंपनी बनने में सफल रही है। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में देश की सबसे बड़ी पेट्रोकेमिकल कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने विश्लेषकों के अनुमान को धत्ता बताते हुए 10,251 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है।

सालाना आधार पर कंपनी के मुनाफे में 9 फीसद की वृद्धि हुई है। पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी को 9,420 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इसके साथ ही रिलायंस 10,000 करोड़ रुपये मुनाफा कमाने वाली कंपनियों के क्लब में शामिल हो गई है। रिलायंस ऐसी पहली भारतीय कंपनी है।

तीसरी तिमाही में कंपनी के राजस्व में 56 फीसद का इजाफा हुआ है और यह बढ़कर 171,336 करोड़ रुपये हो गया।

वहीं दिसंबर तिमाही में रिलायंस को टेलीकॉम बिजनेस से 831 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने दिसंबर तिमाही में शुद्ध 831 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है। तिमाही आधार जियो के मुनाफे में 22.10 फीसद की बढ़ोतरी हुई है।

यह भी पढ़ें:  10,000 करोड़ मुनाफा कमाने वाली पहली भारतीय कंपनी बनी RIL, Q3 में कमाए 10,251 करोड़ रुपये

Posted By: Abhishek Parashar