मुंबई, पीटीआइ। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीयों की लिस्ट में पहले स्थान पर बने हुए हैं। यह लगातार आठवां साल है जब वह इस सूची में शीर्ष स्थान पर है। अंबानी की कुल नेट संपत्ति 3,80,700 करोड़ रुपये है। अमीर भारतीयों की यह सूची आईआईएफएल वेल्थ हुरुन इंडिया ने जारी की है। इसके मुताबिक लंदन स्थित एसपी हिंदुजा एवं उनका परिवार 1,86,500 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ लिस्ट में दूसरे नंबर पर कायम है। इसके बाद विप्रो के अजीम प्रेमजी का स्थान आता है। उनकी नेट वर्थ 1,17,100 करोड़ रुपये आंकी गई है। इस लिस्ट के मुताबिक 1,000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति रखने वालों का नंबर बढ़कर 953 हो गया है। पिछले साल 831 भारतीयों के पास 1,000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति थी। हालांकि, डॉलर मूल्य में अरबपतियों की संख्या घटकर 138 हो गयी है। पिछले साल यह आंकड़ा 141 का था। 

953 लोगों के पास देश की जीडीपी के 27 फीसद के बराबर संपत्ति

आईआईएफएल वेल्थ हुरुन इंडिया रीच लिस्ट के मुताबिक भारत के शीर्ष 25 सबसे अधिक धनवान लोगों की कुल संपत्ति का मूल्य भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के लगभग दस फीसद के बराबर है। वहीं 953 लोगों की संपत्ति देश के जीडीपी के 27 फीसद के बराबर है। इस सूची में लक्ष्मीनिवास मित्तल चौथे और गौतम अडाणी पांचवें स्थान पर हैं। आर्सेलर मित्तल के सीईओ मित्तल के पास 1,07,300 करोड़ रुपये की संपत्ति है। वहीं गौतम अडाणी के संपत्ति का मूल्य 94,500 करोड़ रुपये है।  

इस लिस्ट में 94,100 करोड़ रुपये की धन संपदा के साथ उदय कोटक छठे स्थान पर है। वहीं साइरस एस पूनावाला 88,800 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ साइरस एस पूनावाला सातवें पायदान पर है। साइरस पल्लोनजी मिस्त्री के पास 76,800 करोड़ रुपये की संपत्ति है। वह आठवें नंबर पर हैं। वहीं, शापोरजी पल्लोनजी नौवें पायदान पर हैं। उनके पास  76,800 करोड़ रुपये की संपत्ति है। दिलीप सांघवी 71,500 करोड़ रुपये की धन संपदा के साथ दसवें पायदान पर रहे हैं। 

कुल संपत्ति में दो फीसद की वृद्धि

इस रिपोर्ट की मानें तो इस साल अमीरों की कुल संपत्ति में कुल मिलाकर दो फीसद की बढ़ोत्तरी हुई है। हालांकि, औसत संपत्ति वृद्धि में 11 फीसद की कमी दर्ज की गयी है। इस रिपोर्ट में यह देखना दिलचस्प है कि लिस्ट के 344 धनवानों की संपत्ति में इस साल कमी देखने को मिली है। 

मुंबई में रहते हैं सबसे अधिक धनवान

आईआईएफएल की इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 246 यानी 26 प्रतिशत अमीर भारतीय देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में रहते हैं। इसके बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का स्थान आता है। यहां सबसे धनवानों में शामिल 175 लोग रहते हैं। इसके बाद देश के आईटी हब बेगलुरु का स्थान आता है। इस शहर में 77 अमीर भारतीयों की रिहाइश है। हालांकि, इस लिस्ट में एनआरआई की भी उल्लेखनीय हिस्सेदारी है। ऐसे लोगों की संख्या 82 है।

अमेरिका है एनआरआई का सबसे पसंदीदा देश

इस सूची में शामिल 82 एनआरआई में 31 अमीर भारतीय अमेरिका में रहते हैं। यूएई इस मामले में दूसरे एवं ब्रिटेन तीसरे स्थान पर है। 

कुछ दिलचस्प फैक्ट्स

इस रिपोर्ट के मुताबिक ओयो रूम्स के फाउंडर और सीईओ रितेश अग्रवाल सबसे कम उम्र के अरबपति हैं। उनकी उम्र है 25 साल है और उनके पास 7,500 करोड़ रुपये की संपत्ति है। एचसीएल टेक्नोलॉजीज की रोशनी नडार सबसे अमीर भारतीय महिला हैं। उनकी आयु 37 वर्ष है। उसके बाद गोदरेज ग्रुप की स्मिता वी कृष्णा (68) हैं। उनके पास कुल 31,400 करोड़ रुपये की संपत्ति है। 

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस