नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। कारोबार में मुनाफा कमाना और इस मुनाफे के साथ ही छोटे कारोबार से एक बड़ा बिजनेस अंपायर खड़ा कर देना हर किसी के बस की बात नहीं होती है। बेहतर बिजनेस करना और उसे किसी मुकाम तक ले जाने की कला जिस धुरंधर को आते है उसे ही मार्केट का किंग कहा जाता है। बिजनेस जगत में अंबानी सिर्फ एक सरनेम ही नहीं है बल्कि एक जाना माना ब्रैंड हैं। इसी अंबानी परिवार के बड़े बेटे यानी मुकेश अंबानी का आज जन्मदिन हैं। आज हम अपनी इस स्टोरी में मुकेश अबानी और उनके परिवार के बारे में कुछ जानकारी देने जा रहे हैं।

अंबानी परिवार: अंबानी सिर्फ सरनेम नहीं बल्कि मार्केट का एक जाना माना नाम है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि एक छोटे से कारोबारी धीरूभाई अंबानी ने न सिर्फ हर हाथ में मोबाइल अपना का सपना देखा बल्कि इसे पूरा भी कर दिखाया। आपको बता दें कि दिवंगत धीरूभाई अंबानी पहली पीढ़ी के उद्यमी थे। उनका हुनर उन्हें गुजरात से एडेन (यमन) और वहां से मुबंई तक लेकर गया जहां उन्होंने टैक्सटाइल बिजनेस की शुरुआत की। उन्होंने भारत में टैक्सटाइल की प्रोडक्शन के लिए वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया। उनके सबसे बड़े बेटे, मुकेश अंबानी आज देश के सबसे अमीर व्यक्ति है, जो कि रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) के मालिक भी हैं। उनके परिवार की कुल नेट वर्थ 30.2 बिलियन डॉलर है। वहीं, मुकेश के छोटे भाई अनिल अंबानी की कुल नेट वर्थ 3.3 बिलियन है। आज रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की जीडीपी पर सीधे तौर पर असर डालती है।

देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी की दौलत के बार में हम सभी बात करते हैं, लेकिन इस मुकाम तक पहुंचने में उन्हें कितनी मेहनत करनी पड़ी इसपर हम कभी चर्चा नहीं करते हैं। हमें ऐसा लगता है कि मुकेश अंबानी के पास आज जो कुछ भी है वह उनके पिता का दिया हुआ है, लेकिन ये बहुत हद तक सही नहीं है। मुकेश अंबानी, धीरूभाई के पुत्र और अनिल अंबानी के भाई हैं। दरअसल, पिता धीरूभाई अंबानी की मृत्यु के बाद दोनों भाइयों के बीच कहा सुनी हुई, जिसके बाद रिलायंस समूह दो भागों में बट गया। यदि ऐसा नहीं होता तो मुकेश अंबानी पूरे रिलांयस ग्रुप के प्रेसिडेंट होते है, और आज वह दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति भी। उनकी कुल आय 8500 करोड़ डॉलर होती और वह इस धरती पर सबसे अमीर शख्स होते।

फिलहाल फोर्ब्स की सूची में भारत के सबसे अमीर आदमी के रूप में मुकेश अंबानी 19वें नंबर पर हैं। उनकी कुल दौलत 2.6 लाख करोड़ (40.1 अरब डॉलर) है। पिछले साल के मुकाबले उनकी दौलत 16.9 अरब डॉलर बढ़ी है। 2017 में मुकेश अंबानी का इस सूची में 33वां स्थान था। मुकेश अंबानी का जन्म 19 अप्रैल सान 1957 को यमन में हुआ था। उन्होंने अबाय मोरिस्चा स्कूल में अपनी शुरुआती पढ़ाई की तथा केमिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री UDCT से प्राप्त की। बाद में एमबीए की पढ़ाई के लिए वह स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी चले गए, हालांकि यहां उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी नहीं की। पिता धीरूभाई अंबानी के बुलाने पर वह कारोबार में मदद के लिए पढ़ाई छोड़कर भारत लौट आएं, और कभी विश्वविद्यालय नहीं लौटे।

मुकेश अंबानी और नीता अंबानी के तीन बच्चे आकाश, ईशा और अनंत हैं। जिसमें सबसे बड़े आकाश अंबानी है। अंबानी परिवार मूल रूप से गुजरात के मोध बनिया समुदाय से ताल्लुक रखता है। मुकेश अंबानी ने अपनी मां के नाम पर कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल खोला है। साथ ही उन्होंने पिता के नाम पर धीरूभाई अम्बानी इन्टरनेशनल स्कूल की स्थापना भी की है। इस वक्त वह दुनिया के सबसे अमीर स्पोर्ट ओनर हैं। उनके पास इंडियन प्रीमयर लीग में मुंबई इंडियंस की फ्रेंचाइजी है।

जियो से टेलिकॉम इंडस्ट्री में मचाया धमाल: सितंबर 2016 में टेलिकॉम सेक्टर में एंट्री करने वाले रिलायंस जियो ने तहलका मचाया। कई महीनों तक फ्री इंटरनेट और वॉइस कॉल देकर जियो ने न सिर्फ तमाम टेलिकॉम कंपनियों की कमर तोड़ दी बल्कि उसने कुछ कंपनियों को मर्जर के लिए भी मजबूर कर दिया। हाल ही में मुकेश अंबानी ने कहा था कि उन्हें जियो का आइडिया उनकी बेटी ईशा ने दिया था। जियो के डेटा प्लान अब भी काफी सस्ते हैं और इस वजह से अब भी टेलिकॉम सेक्टर में डेटा वार जैसे हालात हैं।

Posted By: Praveen Dwivedi