नई दिल्ली, पीटीआइ। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी और महिंद्रा एंड महिंद्रा की घरेलू कार बिक्री में दिसंबर, 2019 में तेजी दर्ज की गई है। हालांकि, सभी कंपनियों के लिए 2019 का आखिरी महीना बहुत अच्छा नहीं रहा। दिसंबर में टाटा, ह्यूंडई और टोयोटा की बिक्री में गिरावट आई है। मारुति सुजुकी इंडिया ने बताया कि दिसंबर में इसकी कार बिक्री में 2.4 परसेंट का इजाफा हुआ है। इस दौरान कंपनी ने 1,24,375 कारें बेची। दिसंबर, 2018 में कंपनी ने 1,21,479 कारें बेची थीं।

समीक्षाधीन अवधि में मारुति सुजुकी इंडिया के कॉम्पैक्ट सेग्मेंट में रिकॉर्ड 65,673 कारों की बिक्री हुई। इस सेग्मेंट में नई वैगनआर, स्विफ्ट, सेलेरिओ, इग्निस, बलेनो और डिजायर जैसे मॉडल आते हैं। इस दौरान कंपनी के यूटिलिटी वाहनों की बिक्री में भी 17.7 परसेंट का उल्लेखनीय इजाफा हुआ।

देश की अग्रणी कार निर्माता कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने भी सुस्ती को धता बताते हुए समीक्षाधीन अवधि के दौरान घरेलू बाजारों में 37,081 कारें बेची। इससे पहले दिसंबर, 2018 में इसने 36,690 कारें बेची थीं। कंपनी ने अपने प्रदर्शन पर संतोष जताते हुए नए साल में बीएस-6 वाहनों के साथ बेहतर प्रदर्शन के लिए तैयार होने की बात कही है।

दिसंबर, 2019 में टाटा मोटर्स की बिक्री में 12 परसेंट की गिरावट आई है। समीक्षाधीन अवधि में कंपनी ने घरेलू बाजारों में 44,254 वाहन बेचे। वहीं दिसंबर, 2018 में कंपनी ने 50,440 वाहन बेचे थे। टाटा मोटर्स ने बताया कि पिछले साल दिसंबर में उसका ध्यान खुदरा बिक्री पर रहा। कंपनी अपने पुराने स्टॉक को घटाने पर ध्यान दे रही थी। टाटा मोटर्स के प्रेसिडेंट (यात्री वाहन बिजनेस यूनिट) मयंक पारिख ने बताया कि कंपनी इसी महीने से बीएस-6 वाहन उतारना शुरू कर देगी और आने वाले महीनों में इन वाहनों का स्टॉक बढ़ाया जाएगा।

ह्यूंडई ने बताया कि दिसंबर, 2019 के दौरान उसने 37,953 कारें बेचीं, जबकि इससे पिछले वर्ष की इसी अवधि में कंपनी ने 42,093 कारें बेची थीं। इस तरह कंपनी की बिक्री में 9.8 परसेंट की गिरावट दर्ज की गई। समीक्षाधीन अवधि में टोयोटा किलरेस्कर मोटर्स की घरेलू बिक्री में 45 परसेंट की गिरावट आई। इस अवधि में कंपनी ने 6,544 वाहन बेचे।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस