नई दिल्ली (जेएनएन)। सड़क मंत्रालय अब 1000 करोड़ के बजाय 2000 करोड़ रुपये के रोड प्रोजेक्ट मंजूर कर सकेगा। सड़क सचिव युद्धवीर सिंह मलिक ने बताया कि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे एक से दो माह में पूरा हो जाएगा। गौरतलब है कि केंद्रीय कैबिनेट ने बीते दिन ही भारतमाला प्रोजक्ट को मंजूरी दी है।

भारत माला प्रोजेक्ट: भारतमाला में 50 रोड कारीडोर 600 आर्थिक जिलों से गुजरेंगे और करीब 70-80% माल का यातायात इसी कारीडोर के दायरे में आएगा।

साथ ही दिल्ली, नोएडा, आगरा, लखनऊ, और वाराणसी समेत देश के 28 शहरों में रिंग रोड बनाए जाएंगे।

क्या है भारतमाला प्रोजेक्ट: सरकार के महत्वाकांक्षी भारतमाला प्रोजेक्ट के पहले चरण को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। इस अहम प्रोजेक्ट के तहत पहले चरण में 24800 किलोमीटर का नेशनल हाइवे बनाया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के लिए अगले 3-6 महीने में बोलियां मंगाई जाएंगी। वित्त वर्ष 2018 में 4500 किमी हाइवे के लिए ठेके दिए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट के तहत हर साल 7,000-10,000 किमी सड़क बनेगी। सरकार प्रोजेक्ट की लागत का 20 फीसद अपनी तरफ से देगी।

Posted By: Praveen Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस