जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। अर्थव्यवस्था की रिकवरी में तेजी के लिए बैंक इन दिनों विशेष लोन अभियान चला रहे हैं। मात्र चार दिनों में बैंकों ने 11,168 करोड़ रुपये के लोन की मंजूरी दी है। इस विशेष लोन अभियान के तहत 15 प्रकार के लोन दिए जा रहे हैं। इनमें होम, आटो, बिजनेस, कृषि, पर्सनल, कंज्यूमर ड्यूरेबल व मुद्रा लोन प्रमुख हैं। यह विशेष लोन अभियान 16 अक्टूबर से शुरू हुआ है और 31 अक्टूबर तक जारी रहेगा।

लोन का विशेष अभियान सभी बैंक अपनी-अपनी सहूलियत के हिसाब से अलग-अलग दिनों और जिलों में चला रहे हैं। इस वर्ष अगस्त में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि अर्थव्यवस्था की रिकवरी रफ्तार को तेज करने के लिए बैंक अक्टूबर में फिर से सभी सेक्टर के लिए खासकर रिटेल, कृषि और एमएसएमई के लिए लोन का विशेष अभियान चलाएंगे। उसके तहत ही 16 अक्टूबर से यह अभियान शुरू किया गया है।

वित्त मंत्री के ट्वीट के मुताबिक लोन के विशेष अभियान के तहत 16-20 अक्टूबर तक सभी सरकारी व निजी बैंकों ने 11,168 करोड़ मूल्य के 1.93 लाख लोन आवेदनों को मंजूरी दी। ये लोन सरकार की तरफ से पहले से जारी विभिन्न लोन स्कीम से पूरी तरह अलग है। इस अवधि में देश के 405 जिलों में लोन मंजूरी के लिए 924 कैंप आयोजित किए गए।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक बिजनेस, आटो और होम लोन की अच्छी मांग दिख रही है। वित्त मंत्रालय के मुताबिक पिछले वर्ष अक्टूबर से इस वर्ष मार्च अंत तक बैंक रिटेल, कृषि व एमएसएमई को 4.94 लाख करोड़ के लोन का वितरण कर चुके हैं।

जियो-बीपी का पहला मोबिलिटी स्टेशन हुआ चालू

ब्रिटिश पेट्रोलियम (बीपी) और देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के संयुक्त उद्यम रिलायंस बीपी मोबिलिटी (आरबीएमएल) ने देश का पहला मोबिलिटी स्टेशन मुंबई में खोल दिया है। जियो-बीपी ब्रांड नाम से खोले गए इस स्टेशन पर सामान्य पेट्रोल व डीजल की बिक्री के साथ ही बिजली चालित वाहनों यानी ईवी के लिए भी चार्जिग सुविधा होगी। कंपनी की योजना वर्ष 2025 तक देशभर में जियो-बीपी ब्रांड के तहत 5,500 मोबिलिटी स्टेशन खोलने की है।

Edited By: Nitesh