नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश की सबसे बड़ी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी LIC का मजबूत प्रदर्शन जारी है। पिछले पूरे साल कोरोना महामारी की वजह से कारोबारी माहौल के बहुत अधिक चुनौतीपूर्ण रहने के बावजूद कंपनी ने शानदार प्रदर्शन किया है। LIC की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी को इंडिविजुअल एश्योरेंस बिजनेस के तहत नई पॉलिसी के प्रीमियम से 56,406 करोड़ रुपये की आमदनी हुई। यह एक रिकॉर्ड है। यह पिछले साल की तुलना में 10.11 फीसद की वृद्धि को दिखाता है। पॉलिसियों की संख्या के लिहाज से LIC की बाजार हिस्सेदारी मार्च 2021 में 81.04 फीसद पर रही। पूरे साल के आंकड़ों को देखा जाए तो यह 74.58 फीसद के आसपास बैठता है।   

LIC के पेंशन और ग्रुप स्कीम वर्टिकल ने भी नए बिजनेस प्रीमियम के मामले में नया रिकॉर्ड बनाया। कंपनी को इस वर्टिकल में नए बिजनेस के प्रीमियम से 1,27,768 करोड़ रुपये की आमदनी हुई। उससे पिछले वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 1,26,749 करोड़ रुपये पर था। 

कंपनी से 3,45,469 एजेंट जुड़े हैं। इससे कॉरपोरेशन के एजेंट्स की संख्या बढ़कर 13,53,808 पर पहुंच गई है।

कंपनी की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि दो नए प्रोडक्ट्स SIIP और Nivesh Plus के जरिए कंपनी ने एक बार ULIP जगत में मजबूत उपस्थिति दर्ज करायी है। LIC ने बताया है कि प्रोडक्ट का NAV, पोर्टफोलियो और स्वीचिंग ऑप्शन अब ऑनलाइन उपलब्ध है। 

LIC ने पिछले वित्त वर्ष में 1,16,265.15 करोड़ रुपये के 2.19 करोड़ मेच्योरिटी क्लेम, मनी बैक क्लेम और एन्यूटी क्लेम सेटल किए। इसके साथ ही कंपनी ने 18,137.34 करोड़ रुपये के 9.59 लाख डेथ क्लेम भी सेटल किए। 

कंपनी ने कहा है कि अपनी ग्राहक सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए उसने कई तरह के कदम उठाए हैं। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप