नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बुधवार को Covid से लड़ने का बूस्‍टर डोज दिया. उन्‍होंने न सिर्फ Covid की दवाई और वैक्‍सीन के इंतजाम के लिए फंड देने की बात कही, बल्कि Loan न भर पा रहे लोगों को Restructuring 2.0 की संजीवनी दी, यानि उन्‍हें अब दोबारा Loan restructure कराने का मौका मिलेगा। यही नहीं, जो कस्‍टमर KYC से चूक गए हैं उनके लिए भी RBI ने खास इंतजाम किए हैं।

KYC कराने को लेकर बड़ा ऐलान

RBI गवर्नर ने कहा कि बैंक या दूसरे खाताधारकों के लिए KYC कराना जरूरी है, लेकिन इसमें Covid को देखते हुए थोड़ी ढील दी जाएगी। उन्‍हें KYC updation के लिए पर्याप्‍त समय मिलेगा। साथ ही रिजर्व बैंक video Kyc को बढ़ावा देगा, ताकि कस्‍टमर घर बैठे ही अपना ब्‍योरा अपडेट कर सकें।

KYC 3 तरह से

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि KYC प्रक्रिया को 3 तरीकों में बांटा गया है। उन्‍होंने कहा कि Customer Convenience बढ़ाने के लिए RBI कई और उपाय लाया है। इनमें KYC शामिल है।

Video बेस्‍ड KYC

RBI गवर्नर के मुताबिक Video Based customer identification process को इसीलिए डेवलप किया गया है ताकि कस्‍टमर आसानी से अपना KYC अपडेट करा सकें। यह पहला प्रोसेस है। इनमें प्रॉपराइटर फर्म्स, ऑथराइज्‍ड सिग्‍नेचरी और दूसरे कस्‍टमर को अपना KYC अपडेट कराने का मौका मिलेगा। इन लोगों को यह सुविधा इसलिए दी गई है क्‍योंकि इन्‍हें KYC अपडेट कराना अनिवार्य है।

Aadhaar E Kyc अकाउंट बदलेगा

RBI गवर्नर ने कहा कि जो खाते aadhaar E Kyc ऑथेन्टिकेशन पर खुले थे, उन्‍हें अब Full Kyc कम्‍प्‍लायंस में बदला जाएगा।

DIGI Locker को मान्‍यता

RBI गवर्नर ने कहा कि DIGI Locker जैसे सेंट्रेलाइज्‍ड KYC रजिस्‍ट्री की पहचान की जाएगी, ताकि कस्‍टमर इलेक्‍ट्रॉनिक तरीके से अपने डॉक्‍युमेंट दे सके। KYC को डिजिटली अपडेट करने के मोड बढ़ाए जाएंगे। 

31 दिसंबर तक KYC कराएं अपडेट

RBI गवर्नर ने कहा कि जो फाइनेंशियल संस्‍थान अपने कस्‍टमर का KYC अपडेट नहीं कर पाए हैं, वे उन्‍हें 31 दिसंबर 2021 तक छूट देंगे। खाताधारकों को इस दरम्‍यान अपना KYC अपडेट करा लेना चाहिए।

लेखक: आशीष दीप

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021