नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। सोने में निवेश का प्लान है तो हम आपको सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGB) के बारे में बता रहे हैं। सरकार की ओर से संचालित सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम इस महीने की शुरुआत में मेंबरशिप के लिए खोली गई थी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड या एसजीबी एक सर्टिफिकेट स्कीम है, जिसे भारतीय रिजर्व बैंक भारत सरकार की ओर से बॉन्ड में जारी करता है। वित्त मंत्रालय के अनुसार, इस साल जून से सितंबर तक हर महीने गोल्ड बांड जारी किए जाएंगे। सोने के बॉन्‍ड को एक ग्राम सोने के गुणकों में पेश किया जाता है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2019-20 के तहत बांड कमर्शियल बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL), पोस्ट ऑफिस, एनएसई एक्सचेंज और बीएसई एक्सचेंज के जरिए 4 कैटेगरी में जारी किए जाएंगे।

ये भी पढ़ें: Aadhar में आसानी से अपडेट करवा सकते हैं अपना नया मोबाइल नंबर, जानिए क्‍या है तरीका

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के बारे में जानने लायक जरूरी बातें:

कौन कर सकता है निवेश

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में भारतीय निवासी व्यक्ति, हिंदू अविभाजित परिवार, ट्रस्ट, यूनिवर्सिटी और चेरीटेबल इंस्टीट्यूशन निवेश कर सकते हैं। इंवेस्टर्स को एक होल्डिंग सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा और बॉन्ड डीमैट फॉर्म में बदला जा सकेगा।

ये भी पढ़ें: जानिए सैलरी में इंक्रीमेंट या टीवी शो जीतने पर मिले पैसों पर कैसे लगता है टैक्‍स

मैच्योरिटी पीरियड

यह बांड 8 साल के मैच्योरिटी पीरियड के साथ आता है। ऑफिशियल स्टेटमेंट के अनुसार, इसमें पांचवें वर्ष के बाद भी बाहर निकलने का ऑप्शन मिलता है।

महत्वपूर्ण तारीखें

                                 मेंबरशिप की डेट    जारी करने की डेट

2019-20 सीरीज I    3-7 जून, 2019       11 जून, 2019

2019-20 सीरीज II   8-12 जुलाई,2019   16 जुलाई, 2019

2019-20 सीरीज III  5-9 अगस्त,2019    14 अगस्त, 2019

2019-20 सीरीज IV 9-13 सितंबर, 2019  17 सितंबर, 2019

इंवेस्टमेंट लिमिट

गोल्ड इंवेस्टमेंट स्कीम के तहत व्यक्तिगत निवेशकों और एचयूएफ न्यूनतम 1 ग्राम और अधिकतम 4 किलो में निवेश कर सकते हैं। ट्रस्ट और अन्य संस्थाओं के लिए अधिकतम सीमा 20 किलो है। ज्वाइंट होल्डिंग में निवेश की सीमा अधिकतम 4 किलो सिर्फ पहले आवेदक पर लागू होती है।

ये भी पढ़ें: कंपनी डिपॉजिट में क्यों मिलता है बैंक एफडी से ज्यादा ब्याज

मूल्य

सदस्यता के पहले सप्ताह के अंतिम तीन कार्य दिवसों में उद्योग निकाय IBJA द्वारा प्रकाशित 99.9 प्रतिशत शुद्धता के सोने पर लागू होने वाले क्लोजिंग मूल्य के एक साधारण औसत के आधार पर रिडेम्पशन कीमतों को जारी किया जाएगा। ऑनलाइन ग्राहकों के लिए, कीमत 50 रुपये प्रति ग्राम रुपये तक कम होगी। ।

पेमेंट

गोल्ड बॉन्ड में निवेश के लिए पेमेंट कैश, डिमांड ड्राफ्ट, चेक और नेट बैंकिंग आदि के जरिए कर सकते हैं।

ब्याज दर

इस पर प्रतिवर्ष 2.50 फीसद की दर से तय ब्याज मिलता है।

ये डॉक्यूमेंट्स हैं जरूरी

फिजिकल गोल्ड खरीदने के लिए केवाईसी जरूरी है। वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, पैन या पासपोर्ट जैसे डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी। इसी के साथ इसमें निवेश के लिए पैन कार्ड होना जरूरी है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप