नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। अक्टूबर, 2016 से सितंबर, 2017 के एक वर्ष के दौरान देश में 2.5 फीसद रोजगार वृद्धि दर्ज की गई। इस दौरान मैन्यूफैक्चरिंग, शिक्षा, परिवहन, व्यापार, स्वास्थ्य, रेस्त्रां व होटल, आईटी व बीपीओ क्षेत्रों में नई भर्तियां हुईं। इस अवधि में केवल भवन निर्माण क्षेत्र में नौकरियां घटीं। श्रम ब्यूरो की ओर से जारी तिमाही रोजगार सर्वे न्यू सीरीज में यह तथ्य सामने आया है। ब्यूरो अप्रैल, 2016 से उक्त सर्वे की रिपोर्ट जारी करता आ रहा है।

इसके तहत कृषि से इतर आठ क्षेत्रों में नौकरियों की स्थिति का आकलन किया जाता है। इनमें मैन्यूफैक्चरिंग, शिक्षा, परिवहन, निर्माण, व्यापार, स्वास्थ्य, होटल व रेस्त्रां तथा आईटी व बीपीओ शामिल हैं। इन आठ क्षेत्रों में संगठित क्षेत्र की 81 फीसद वे ईकाइयां आ जाती हैं जिनमें छठी आर्थिक जनगणना के अनुसार 10 या अधिक लोग कार्यरत हैं।

इसके तहत तैयार पहली रिपोर्ट में 1 अप्रैल, 2016 तक आठ क्षेत्रों में कुल 205.22 लाख नौकरीशुदा पाए गए थे। इसके बाद से हर तिमाही यह आंकड़ा बढ़ता गया है। 30 जून, 2016 को समाप्त तिमाही तक इसमें 77 हजार, जबकि 30 सितंबर, 2016 को समाप्त तिमाही में 32 हजार की और बढ़ोतरी हो गई थी। इसी प्रकार अगली तिमाहियों में रोजगार में क्रमशः 1.22 लाख, 1.85 लाख और 64 हजार का इजाफा हुआ था।

सितंबर, 2017 को समाप्त नवीनतम तिमाही में इससे पहले की तिमाही के मुकाबले 1.36 लाख नौकरियों का सृजन हुआ। इस दौरान मैन्यूफैक्चरिंग में 89 हजार, शिक्षा में 21 हजार, परिवहन में 20 हजार, व्यापार में 14 हजार, स्वास्थ्य क्षेत्र में 11 हजार, होटल व रेस्त्रां में 2 हजार तथा आइटी व बीपीओ में 1 हजार नई नौकरियों का सृजन हुआ। वहीं, निर्माण क्षेत्र में 22 हजार नौकरियां कम हो गईं। मुख्य रूप से इमारतों के निर्माण व फिनिशिंग की गतिविधियां घट जाने के कारण ऐसा हुआ।

Posted By: Shubham Shankdhar