नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल के इस्तीफे की खबर के बाद सोमवार को कंपनी के शेयर में जोरदार उछाल आया। सोमवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में जेट एयवरेज का शेयर 15 फीसद से अधिक तक उछल गया।

हालांकि, नरेश गोयल और उनकी पत्नी के इस्तीफे की खबर की पुष्टि बाजार बंद होने के बाद हुई।

गोयल के इस्तीफे के बाद जेट एयरवेज की नकदी संकट का समाधान होने की उम्मीद बढ़ गई है। कंपनी को कर्ज देने वाले बैंकों का समूह किसी भी समाधान योजना पर आगे बढ़ने और कंपनी को तत्काल मदद दिए जाने के पहले प्रबंधन में बदलाव के लिए दबाव बना रहा था।

बीएसई में जेट का शेयर 12.69 फीसद की उछाल के साथ 254.50 रुपये पर बंद हुआ, वहीं एनएसई में यह 15.46 फीसद की बढ़त के साथ 261 रुपये पर बंद हुआ।

जेट के शेयरों में पिछले दो दिनों के दौरान करीब 17 फीसद का उछाल आया है।

स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में जेट एयरवेज ने कंपनी के फाउंडर और प्रोमोटर नरेश गोयल के चेयरमैन से इस्तीफा दिए जाने की खबर की पुष्टि की है।

इसमें कहा गया है, 'प्रोमोटर नरेश गोयल और अनीता गोयल के दो प्रतिनिधि और एतिहाद पीजेएससी के एक प्रतिनिधि बोर्ड से इस्तीफा देंगे। इसके अलावा नरेश गोयल भी कंपनी के चेयरमैन नहीं होंगे।'

गोयल के इस्तीफे के बाद गंभीर नकदी संकट का सामना कर रही कंपनी को बैंकों के समूह से तत्काल 1,500 करोड़ रुपये की फंडिंग मिलेगी। जेट एयरवेज पर 8000 करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है।

इसके साथ ही बैंकों का समूह बोर्ड में अपने प्रतिनिधियों को नियुक्त करेगा, जो कंपनी को चलाएंगे। एसबीआई के नेतृत्व में बैंकों का समूह समाधान योजना बना रहा है, जिसके तहत जेट के कर्ज को शेयरों में बदला जाएगा। 

जेट एयरवेज में अबू धाबी की कंपनी एतिहाद एयरवेज की 24 पीसद हिस्सेदारी है। नकदी संकट की वजह से कंपनी को करीब 80 विमानों को संचालन से हटाने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

यह भी पढ़ें: चुनाव पूर्व मिली बढ़त का 50% हिस्सा शेयर बाजार ने गंवाया, दो दिनों में सेंसेक्स 600 अंक टूटा

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस