नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। जेट एयरवेज के पायलटों के पायलट संगठन नेशनल एविएटर्स गिल्ड ने सोमवार को अपील की कि भारतीय स्टेट बैंक (SBI) 1,500 करोड़ रुपये जारी करे। आर्थिक संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के लिए पिछले महीने ही कर्ज पुनर्गठन योजना के तहत यह प्रस्ताव किया गया था।

अभी जेट एयरवेज के मात्र 6-7 विमान परिचालन में हैं। पट्टादाताओं को किराए के पैसे न चुकाने और भारी नकदी संकट के कारण जेट एयरवेज के लगभग सभी विमानों का परिचालन ठप पड़ गया है।

नेशनल एविएटर्स गिल्डल के वाइस प्रेसिडेंट आदिम वलियानी ने जेट एयरवेज के मुंबई स्थित मुख्यालय सिरोया सेंटर में संवाददाताओं को बताया, 'हम एसबीआई से अपील करना चाहते हैं कि वह 1,500 करोड़ रुपये का फंड जारी कर एयरलाइन के परिचालन में मदद करे। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी अपील करते हैं कि वह जेट एयरवेज में काम कर रहे लगभग 20,000 कर्मचारियों की नौकरी बचाएं।'

इससे पहले, जेट एयरवेज के पायलट, इंजीनियर्स और केबिन क्रू के सदस्यी मुख्यालय में जुटकर अपनी एकजुटता का प्रदर्शन किया। आपको बता दें कि जेट एयरवेज के पायलट और इंजीनियर्स को दिसंबर 2018 में लास्ट सैलरी मिली थी।

Posted By: Praveen Dwivedi