नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। कोविड-19 महामारी ने हमारे जीवन को पूरी तरह से प्रभावित किया है। देश में इस महामारी ने उन लाखों लोगों को प्रभावित किया है, जो या तो बीमार हुए या जिन्होंने इस बीमारी के फैलने के कारण जान गंवाईं। महामारी ने लोगों के बीच स्वास्थ्य के महत्व को उजागर किया है। लोगों ने माना कि काम के साथ-साथ व्यायाम और सही खानपान भी जरूरी है, क्योंकि इसका सीधा संबंध हमारी इम्यूनिटी से है।

महामारी में हमने यह भी देखा कि देश को अगर समाधान के रूप में किसी प्रोडक्ट और सर्विस की जरूरत है, तो उसे तैयार किया जा सकता है। भारत जो पहले PPE किट, टेस्टिंग किट आदि जैसे कोरोना में इस्तेमाल होने वाले प्रोडक्ट का उत्पादन नहीं करता था, लेकिन देश में बढ़ती जरूरत को देखते हुए इसने न केवल इनका उत्पादन किया, बल्कि निर्यात भी करता है। उधर मेडिकल इंडस्ट्री ने भी नए उत्पादों को जल्दी बाजार में लाने की क्षमता का प्रदर्शन किया है और यही आत्मनिर्भर भारत की पहचान है।

कोरोना काल में कई छोटी कंपनियां ऐसे ही अनोखे इनोवेशन लेकर आईं, जिनका इस्तेमाल करके समाज का भला किया गया। इसको लेकर तकनीक की भी मदद ली गई। कोरोना काल में अपने इनोवेशन से समाधान प्रस्तुत करने वाली देश की स्टार्टअप SME कंपनी को Jagran Naya Bharat SME Awards 2021 में सम्मानित किया जाएगा। यह समारोह 15 सितंबर को होगा और इसके पार्टनर्स Luminous एवं Havells और एसोसिएट स्पॉन्सर IndusInd Bank है।

हेल्थ एंड वेलनेस के दावेदार

Jagran Naya Bharat SME Awards 2021 के हेल्थ एंड वेलनेस कैटगरी में Criterion Tech को नॉमिनेट किया गया है। आईटी कंपनी Criterion Tech कोरोना काल में एक बेहतर समाधान लेकर आई। इसका नाम है रिमोट मॉनिटरिंग डैशबोर्ड। इसके जरिए दूर बैठे डॉक्टर्स मरीज की बेहतर निगरानी कर सकते हैं। हेल्थकेयर टीमें इसके माध्यम से मरीजों की प्रगति और गतिविधियों पर आसानी से निगरानी कर सकती हैं। नॉमिनेशन प्राप्त करने वाली दूसरी कंपनी Mother Sparsh है। यह एक समग्र ब्रांड के रूप में विकसित हो रहा है, जो बच्चों की देखभाल, त्वचा की देखभाल, बालों की देखभाल की एक विस्तृत श्रृंखला रखता है और जो नेचर और वेलनेस से जुड़े उत्पादों की पेशकश करता है। नॉमिनेट होने वाली तीसरी कंपनी है Devic Earth। यह एक क्लीन-टेक कंपनी है जो प्रमुख वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरण ‘प्योर स्काईज़' के साथ स्केलेबल समाधान बनाती है।

हेल्थकेयर लीडर्स भविष्य में इनोवेशन करते समय COVID-19 संकट की तीव्र प्रतिक्रिया से सीख सकते हैं। माना जाता है कि महामारी ने कई क्षेत्रों में नवाचार के रुझान को तेज किया है, और संकट के प्रबंधन में केंद्रीय खिलाड़ी के रूप में, स्वास्थ्य सेवा सूची में सबसे ऊपर है।

अपने उम्मीदवार को जिताने के लिए ऑनलाइन वोट करें। अभी वोट करने के लिए लिंक पर क्लिक करें - https://bit.ly/2Uf1X1E

Edited By: Ashish Deep