नई दिल्ली, पीटीआइ। आयकर विभाग ने 8 अप्रैल से 30 जून के बीच 20 लाख से अधिक करदाताओं को 62,361 करोड़ रुपये के रिफंड जारी किया है। कुल टैक्स रिफंड में से 23,453.57 करोड़ रुपए 19,07,853 टैक्सपेयर्स को दिए हैं, जबकि 38,908.37 करोड़ रुपए का कॉरपोरेट टैक्स 1,36,744 मामलों में रिफंड किया गया है। "आयकर विभाग ने 8 अप्रैल से 30 जून, 2020 तक प्रति मिनट 76 मामलों की गति से कर रिफंड जारी किए हैं। केवल 56 सप्ताह के इस अवधि के दौरान, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने 20 से अधिक समय के लिए रिफंड जारी किए हैं।" एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि लाख मामले 62,361 करोड़ रुपये से अधिक के हैं।

यह भी पढ़ें: Savings Account: ये 9 बैंक बचत खाते पर देते हैं सबसे ज्यादा ब्याज, जानिए कहां है आपका फायदा

इन रिफंडों को सीधे करदाताओं के बैंक खातों में जमा कर दिया गया है और किसी भी करदाता को रिफंड जारी करने के लिए विभाग से संपर्क नहीं करना पड़ा। सीबीडीटी ने कहा है कि सभी टैक्सपेयर्स तुरंत ही ईमेल का जवाब दें, ताकि जिनका रिफंड नहीं मिल सका है, वह भी मिल जाए।

यह भी पढ़ें:  Bank Holidays List July 2020: बैंक के जरूरी काम निपटाने से पहले जान लीजिये जुलाई में कितने दिन बंद रहेंगे बैंक

 

आयकर विभाग की ओर से भेजे गए ई-मेल में करदाताओं से उनकी बकाया मांग, उनके बैंक खाते तथा रिफंड में किसी तरह के अंतर के बारे में जानकारी मांगी जाती है। विभाग ने आठ अप्रैल को कहा था कि कोविड-19 संकट के मद्देनजर उसने पांच लाख रुपये तक के आयकर रिफंड तत्काल जारी करने का फैसला किया है।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस