नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। भारत की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी इन्फोसिस के मुनाफे में बड़ी गिरावट आई है। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में इन्फोसिस का शुद्ध मुनाफा 29.62 फीसद कम होकर 3,610 करोड़ रुपये रह गया। पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी को 5,129 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

तीसरी तिमाही में इन्फोसिस की शुद्ध बिक्री में सालाना आधार पर 20.3 फीसद का इजाफा हुआ है। वहीं तिमाही आधार पर यह 3.8 फीसद बढ़कर 21,400 करोड़ रुपये हो गया।

रॉयटर्स के मुताबिक विश्लेषकों ने इस तिमाही के लिए 4,131 करोड़ रुपये के मुनाफे का अनुमान लगाया था। इन्फोसिस ने करेंसी टर्म्स में वर्ष 2018-19 के लिए राजस्व अनुमान का लक्ष्य 8.5-9 फीसद रखा है।

इसके साथ ही कंपनी ने 8,260 करोड़ रुपये के शेयर बॉयबैक की घोषणा की है। इन्फोसिस प्रति शेयर 800 रुपये के भाव से शेयरों की खरीदारी करेगी। कंपनी के इतिहास में यह दूसरा बॉयबैक है।

गुरुवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में कंपनी का शेयर 0.58 फीसद की मामूली तेजी के साथ करीब 4 रुपये मजबूत होकर 683.70 रुपये पर बंद हुआ। शेयर बॉयबैक के लिए जो रकम तय की गई है, वह आज के भाव के मुकाबले करीब 20 फीसद अधिक है। स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में कंपनी ने शेयरधारकों को दिए जाने वाले विशेष लाभांश के बारे में भी जानकारी दी है।

कंपनी ने प्रति शेयर 4 रुपये का विशेष लाभांश दिए जाने का ऐलान किया है। लाभांश वितरण के लिए 25 जननवरी को रेकॉर्ड डेट तय किया गया है, जबकि भुगतान की तारीख 28 जनवरी रखी गई है।

पिछले साल अप्रैल महीने में कंपनी ने 13,000 करोड़ रुपये का बॉयबैक किया था। इसके साथ ही कंपनी ने प्रति शेयर 10 रुपये का लाभांश दिया था। लाभांश के मद में कंपनी ने 2600 करोड़ रुपये का भुगतान किया था।

आम तौर पर तीसरी तिमाही के नतीजे आईटी कंपनियों के लिए कमजोर होते हैं क्योंकि विदेश में काम करने वाले कर्मचारियों को क्रिसमस और नए साल की वजह से कम काम करने का मौका मिलता है। इससे पहले इन्फोसिस की प्रतिस्पर्धी और देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस भी विश्लेषकों के अनुमान के मुताबिक नतीजे देने में विफल रही है।

यह भी पढ़ें: 8,260 करोड़ रुपये का शेयर बॉयबैक करेगी इन्फोसिस, प्रति शेयर 4 रुपये का लाभांश भी देगी कंपनी

Posted By: Abhishek Parashar