नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। जनवरी महीने में इंडस्ट्रियल ग्रोथ में तेजी देखी गई है। जनवरी में यह 7.5 फीसद के स्तर पर रही है जबकि दिसंबर महीने में यह 7.1 फीसद रही थी। एक साल पहले जनवरी 2017 में आईआईपी 3 फीसद के स्तर पर रही थी।

जनवरी महीने में मैन्युफैक्चरिंग आउटपुट 8.7 फीसद के स्तर पर रही है जबकि दिसंबर में यह 8.4 फीसद रही थी। इलेक्ट्रिसिटी प्रोडक्शन 7.6 फीसद के स्तर पर रही है जो कि दिसंबर महीने में 4.4 फीसद के स्तर पर रही थी। जनवरी में प्राइमरी गुड़्स का आउटपुट 5.8 फीसद के स्तर पर रहा है जो कि दिसंबर में 3.7 फीसद रहा था। कंज्यूमर ड्यूरेबल्स का आउटपुट दिसंबर के 0.9 फीसद से बढ़कर जनवरी में 8 फीसद के स्तर पर रहा है। वहीं, इंफ्रास्ट्रक्चर की बात करें तो यह जनवरी में 6.8 फीसद रहा है। दिसबंर में यह आंकड़ 6.7 फीसद के स्तर पर रहा था।

जनवरी में कैपिटल गुड्स के आउटपुट में गिरावट दर्ज की गई है। जनवरी में यह घटकर 14.6 फीसद रहा है जो कि दिसंबर महीने में 16.4 फीसद के स्तर पर रहा था। इसी तरह माइनिंग आउटपुट में गिरावट दर्ज की गई है। जनवरी महीने में यह घटकर 0.1 फीसद रहा है जो कि दिसंबर में 1.2 के स्तर पर रहा था। इंटरमीडिएट गुड़्स के आउटपुट की बात करें तो इसमें भी गिरावट दर्ज की गई है। जनवरी में यह घटकर 4.9 फीसद के स्तर पर रहा है जबकि दिसंबर में यह 6.2 फीसद रहा था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021