नई दिल्ली, पीटीआइ। दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती के संकेतों के बीच प्राइवेट सेक्टर के आईसीआईसीआई बैंक की ओर से अच्छी खबर मिल रही है। बैंक ने चालू वित्त वर्ष के दौरान 450 नए ब्रांच खोलने का लक्ष्य रखा है। बैंक ने एक स्टेटमेंट जारी कर कहा है कि इन 450 में से 320 ब्रांच को उसने ग्राहकों के लिए खोल दिया है। इसके साथ ही बैंक की शाखाओं की संख्या 5,000 के आंकड़े को पार कर गई है। बैंक ने कहा है कि शेष 130 शाखाओं को भी चालू वित्त वर्ष के आखिर तक ऑपरेशनल कर दिया जाएगा।

3,500 लोगों को मिलेगा रोजगार

बैंक के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अनूप बागची ने कहा कि बैंक का लक्ष्य मार्च 2020 तक 5,300 ब्रांच का नेटवर्क विकसित करने का है। उन्होंने कहा कि इसके लिए 3,500 पदों पर नियुक्तियां होंगी। 

बागची ने कहा, ''हमारा मानना है कि रिटेल बैंकिंग के लिए ब्रांच का बड़ा नेटवर्क होना जरूरी है। इससे ग्राहकों को अच्छी सर्विस देकर उनके साथ रिलेशनशिप को गहरा बनाने में मदद मिलती है।''

उन्होंने कहा कि ब्रांच का नेटवर्क बेहतर होने से ग्राहकों के मॉर्गेज, बैंकिंग, लोन और निवेश से जुड़ी सभी बैंकिंग जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलती है। 

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ वर्षों में बैंकों के ब्रांच के कामकाज के नेचर में काफी बदलाव आया है। आज के समय में अधिकतर ग्राहक सामान्य लेनदेन डिजिटल माध्यमों से कर लेते हैं लेकिन जटिल मुद्दों को समझने, निवेश सुझाव के लिए ब्रांचों में जाते हैं।

Slowdown से बागची का इनकार

बागची ने कहा कि Slowdown का कोई खास असर उनके बैंक पर नहीं पड़ा है। उन्होंने कहा कि उल्टे इस वजह से आईसीआईसीआई बैंक को नए ब्रांच के लिए कम रेंट पर जगह मिल जा रही है। 

उन्होंने कहा, ''हमारा मार्केट शेयर डबल डिजीट में है और हम इसे बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं। मांग में किसी तरह का Slowdown नहीं है और हमें कोई निराशा नजर नहीं आ रही।''

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस