नई दिल्ली (पीटीआई)। निजी क्षेत्र के बड़े बैंकों में शुुमार आइसीआइसीआइ बैंक ने गुरुवार को ग्राहकों के लिए ऑनलाइन पीपीएफ खाता खोलने की सुविधा का एलान किया है। इस डिजिटल सर्विस के जरिए ग्राहकों को पेपर डॉक्यूमेंट्स देने की जरूरत नहीं है।

इस सर्विस की मदद से ग्राहक पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) खाता तुरंत खुलवा सकेंगे। यह प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन और पेपरलैस है। आइसीआइसीआइ बैंक ने अपनी एक स्टेटमेंट में कहा, “इस नई सर्विस के जरिए बैंक के ग्राहकों को पीपीएफ खाता खुलवाने के लिए बैंक ब्रांच जाकर खुद डॉक्यूमेंट्स जमा करने की जरूरत नहीं है। वे अब अपनी सहूलियत से बैंक के डिजिटल चैनल और मैबाइल बैंकिंग के जरिए कभी भी और कहीं से भी खाता खुलवा सकते हैं ”

बैंक दावा करता है कि वह देश का पहला ऐसा बैंक है जो ग्राहकों को पीपीएफ खाता खुलवाने के लिए पूरी तरह से डिजिटल और पेपरलैस प्रक्रिया के अवगत करा रहा है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि बैंक की यह सेवा 24 घंटे सातों दिन उपलब्ध रहेगी। इसके लिए ग्राहकों को इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए लॉग इन कर पीपीएफ एकाउंट के लिए एप्लाई करना होगा।

Paytm और ICICI बैंक ने किया करार
प्राइवेट सेक्टर के बैंक ICICI ने पेटीएम के साथ मिलकर एक करार किया है, जिसके तहत बिना ब्याज का छोटा लोन दिया जाएगा। इसके लिए आपको ICICI बैंक का कस्टमर होना होगा। इसके बाद यदि आप 20 हजार रुपए तक की खरीदारी पेटीएम के जरिए लोन लेकर करते हैं, तो आपको 45 दिनों तक कोई ब्याज नहीं देना होगा।

नई सेवा के जरिए अब कोई भी रोजमर्रा की चीजों का पेमेंट करने के लिए 20,000 रुपए तक डिजिटल क्रेडिट मिलेगा। इस नई सेवा को पोस्टपेड सेवा नाम दिया गया है। इसकी मदद से उपभोक्ता अपनी जरूरतों की चीजें जैसे बिजली-पानी का बिल, ग्रॉसरी का बिल डिजिटल क्रेडिट पर मिले इस लोन से कर सकेंगे।

बैंक के मुताबिक, 45 दिनों के बाद यदि पैसा वापस नहीं किया जाता है तो कस्टमर को 50 रुपए लेट फीस और 3 फीसद ब्याज के साथ रकम लौटानी होगी। पेटीएम-ICICI बैंक पोस्टपेड नाम का ये डिजिटल क्रेडिट अकाउंट तुरंत ऐक्टिवेट हो जाएगा और बैंक का दावा है कि जरूरत पड़ने पर ग्राहकों को तुरंत पैसा ट्रांसफर हो जाएगा।

Posted By: Surbhi Jain