नई दिल्ली, पीटीआइ। हैदराबाद स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिये कागजरहित ई-बोर्डिंग सुविधा शुरू की है। यह ऐसा करने वाला भारत का पहला हवाई अड्डा बन गया है। हैदराबाद हवाई अड्डे का संचालन करने वाली कंपनी जीएमआर समूह ने मंगलवार को यह जानकारी दी। 

जीएमआर समूह के नियंत्रण वाले हवाई अड्डे के पास पहले से ही भारत के पहले और एकमात्र ऐसा हवाई अड्डा होने का श्रेय है, जो सभी उड़ानों में अपने सभी घरेलू यात्रियों को ई-बोर्डिंग की सुविधा देता है। कंपनी ने कहा कि यह सेवा अभी इंडिगो एयरलाइंस की चुनिंदा अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिये उपलब्ध है।

उसने कहा कि सघन व सफल परीक्षण के बाद सरकार से मंजूरी मिलने पर उसने अपनी ई-बोर्डिंग सेवाओं को शुरू किया है। इस शुरुआत में इंडिगो साझेदार कंपनी है। इस तरह से ई-बोर्डिंग सुविधा देने के मामले में इंडिगो पहली भारतीय विमानन कंपनी बन गयी है। इंडिगो की दो शारजाह जाने वाली उड़ान 6ई1405 के यात्रियों ने दो अक्टूबर को इस सुविधा का लाभ उठाया।

स्पाइस जेट भारत-बांग्लादेश के बीच उड़ान शुरू करेगी

उधर, विमानन कंपनी स्पाइसजेट पांच नवंबर से भारत और बांग्लादेश के बीच आठ नयी उड़ानें शुरू करेगी। कंपनी इनकी शुरुआत दोनों देशों के बीच विशेष द्विपक्षीय उड़ान समझौते (एयर बबल पैक्ट) के तहत करेगी। कंपनी ने कहा कि वह सप्ताह में चार दिन कोलकाता से चटगांव के बीच सीधी उड़ान सेवा का परिचालन करेगी। चटगांव उसके सेवा नेटवर्क में 11वां अंतरराष्ट्रीय स्थान होगा। इसके अलावा दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई से ढाका को भी जोड़ेगी। सभी नयी उड़ानें पांच नवंबर से शुरू होंगी।

एयर एशिया ने उड़ान के दौरान भोजन की सेवा बहाल की

एयर एशिया इंडिया ने सोमवार को कहा कि उसने सरकार द्वारा नियामकीय दिशा-निर्देश में ढील के बाद यात्रियों के लिए विमान में भोजन की सुविधा को बहाल कर दिया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस