नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। जून महीने में कंपनियों की हायरिंग एक्टिविटीज में 6 फीसद की बढ़ोतरी देखी गई है। इसमें सबसे ज्यादा 26 फीसद की बढ़ोतरी आईटी-सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में दर्ज की गई है। Naukri का जॉब सूचकांक जून में 2,172 पर रहा है, जो कि जून 2018 में 2,047 पर था।

आईटी-सॉफ्टवेयर उद्योग में हायरिंग एक्टिविटी में 26 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है जिससे यह सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाले उद्योग में शामिल हो गया है। आईटी-सॉफ्टवेयर के अलावा विज्ञापन व जनसंचार में 14 फीसदी, एफएमसीजी में 8 फीसदी, मीडिया व डॉटकॉम में 11 फीसदी और इंश्योरेंस में 17 फीसदी ग्रोथ देखने को मिली है।

हालांकि, कुछ ऐसे उद्योग भी हैं जिनकी हायरिंग एक्टिविटी में गिरावट दर्ज की गई। ऑटो में 18 फीसदी और एंसिलरी में 11 फीसदी की गिरावट देखी गई है। वहीं मानव संसाधन (एचआर), प्रशासन, सेल्स और व्यवसाय विकास जैसे क्षेत्रों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। उधर बैंकिंग और बीपीओ क्षेत्र में 14 फीसदी और 2 फीसदी की गिरावट देखी गई है।

तीन साल तक के अनुभव वाले लोगों की मांग में 5 फीसद की बढोतरी हुई है, जबकि चार से सात साल के अनुभव वाले मध्य स्तर के अधिकारियों की वृद्धि 8 फीसदी रही है। वहीं, 8 से 12 सालों के अनुभव वाले मध्य-प्रबंधन वाली भर्ती एक्टिविटी में 8 फीसदी की वृद्धि हुई है। 13 से 16 साल के अनुभव वाले वरिष्ठ प्रबंधन में 2 फीसद की वृद्धि हुई और 16 साल से अधिक के अनुभव वाले नेतृत्व की भूमिकाओं में 2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

Posted By: Pawan Jayaswal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप