नई दिल्ली, पीटीआइ। HDFC ने HCAL में से 10 प्रतिशत हिस्सेदारी अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी को 184 करोड़ रुपये में बेच दिया है। देश की सबसे बड़ी लोनदाता बैंक एचडीएफसी लिमिटेड ने गुरुवार को कहा कि उसने एचडीएफसी कैपिटल एडवाइजर्स लिमिटेड (एचसीएएल) में अपनी 10 प्रतिशत हिस्सेदारी अबू धाबी निवेश प्राधिकरण को 184 करोड़ रुपये में बेची है। इस डील के बाद एचसीएएल अब एचडीएफसी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी नहीं रह जाएगी।

अप्रैल में हुआ था यह समझौता

अप्रैल में हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन (एचडीएफसी) ने एचसीएएल के 2,35,019 इक्विटी शेयरों की बिक्री के लिए एक शेयर खरीद समझौता किया था, जो अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी को पेड-अप शेयर पूंजी का 10 प्रतिशत का प्रतिनिधित्व करता है।

7,841.49 रुपये प्रति इक्विटी शेयर की कीमत 
एचडीएफसी ने एक नियामक फाइलिंग में कहा कि हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि निगम ने 25 मई 2022 को 7,841.49 रुपये प्रति इक्विटी शेयर की कीमत पर बिक्री को समाप्त किया है, जो कुल मिलाकर 184.29 करोड़ रुपये है। इस बिक्री के बाद एचसीएएल एचडीएफसी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी नहीं रह गई है। हालांकि, यह निगम की सहायक कंपनी बनी हुई है।

HCAL नहीं रही पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी

आपको बता दें कि इस डील के पहले एचसीएएल (HCAL) एचडीएफसी (HDFC) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी थी। लेकिन एचडीएफसी द्वारा एचसीएएल के 10 फीसद शेयर बेचे जाने के बाद अब यह एचडीएफसी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी नहीं रह गई है।

एचडीएफसी का कारोबार 1.99 प्रतिशत बढ़ा

दोपहर के कारोबार में एचडीएफसी का शेयर बीएसई पर 2,282 रुपये पर कारोबार कर रहा था, जो पिछले बंद से 1.99 प्रतिशत अधिक था।

Edited By: Sarveshwar Pathak