नई दिल्ली, पीटीआइ। सरकार अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों के लिए एक व्यापक वित्तीय पैकेज पर काम कर रही है, इसमें MSME भी शामिल है। एक शीर्ष अधिकारी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय में सचिव गिरिधर अरमाने ने कहा कि सरकार, प्रधान मंत्री कार्यालय और आर्थिक मामलों के विभाग पहले से ही एक पैकेज पर काम कर रहे हैं, जिसमें केवल एमएसएमई ही नहीं, बल्कि पूरा उद्योग शामिल है। अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों के लिए एक व्यापक पैकेज का ध्यान रखा जा रहा है और इस पर काम किया जा रहा है।

उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये SIAM (सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स) संस्थान के सदस्यों के साथ बातचीत के दौरान यह जानकारी दी। बैठक में शामिल MSME और सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने भी कहा कि 'एक पैकेज घोषित होने जा रहा है।'

अर्थव्यवस्था को बूस्ट करने के लिए पैकेज की मांग उद्योग निकायों और MSME क्षेत्र के विशेषज्ञों की ओर से की जा रही है। प्रमुख रोजगार देने वाला भारत का सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME), देश के विकास में 29 फीसद और निर्यात में 48 फीसद का योगदान देता है।

हालांकि, कोरोना वायरस महामारी के कारण इस क्षेत्र को भारी संकट का सामना करना पड़ रहा है, लाखों यूनिट घाटे में हैं और नौकरियों में कटौती की संभावना है।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस