PreviousNext

सरकारी बैंकों में पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त के लिए सरकार ने दी मंजूरी

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 09:52 AM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 09:56 AM (IST)
सरकारी बैंकों में पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त के लिए सरकार ने दी मंजूरीसरकारी बैंकों में पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त के लिए सरकार ने दी मंजूरी
मोदी सरकार ने दी सरकारी बैंकों के लिए पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त को मंजूरी

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने सरकारी बैंकों के लिए पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त को मंजूरी दे दी है ताकि बैंक अपना पूंजीगत आधार बढ़ा सकें। स्टाक एक्सचेंज में नियामकीय फाइलिंग में देना बैंक ने बताया, “हमारा भारत सरकार के साथ 16 मार्च 2017 को भेजे गए एक पत्र के माध्यम से संचार हुआ है जिसमें टर्नअराउंड लिंक्ड इन्फ्यूशन प्लान के तहत 600 करोड़ रुपए के अन्य आवंटन की बातचीत हुई है।”

यह भी पढ़ें- आयकर विभाग ने सार्वजनिक किए 29 डिफाल्टर्स के नाम, 448 करोड़ रुपए की टैक्स देनदारी बाकी

कोलकाता के बैंक ऑफ इंडिया ने भी बताया कि उसका भी भारत सरकार के साथ संचार हुआ है जिसमें जिसमें टर्नअराउंड लिंक्ड इन्फ्यूशन प्लान के तहत 418 करोड़ रुपए के अन्य आवंटन की बातचीत हुई है।

बैंक ने बताया कि 10 रुपए की फेस वैल्यु के साथ समता शेयरों के प्रिफरेंशियल अलॉटमेंट के लिए बोर्ड की बैठक 27 मार्च को होनी है, जिसमें भारत सरकार की ओर से इक्विटी शेयर का आबंटन भारत के राष्ट्रपति को किया जाना प्रस्तावित है।

देना बैंक ने बताया, “तरजीही आधार पर बैंक की पूंजी जुटाने के लिए भारत सरकार, एलआईसी ऑफ इंडिया और जीआईसी से बोर्ड अप्रूवल लिया जा रहा है।”

कैपिटल इन्फ्यूशन की दूसरी किश्त में 8,000 करोड़ रुपए दिए जाने हैं जिसके बेहद सख्त पैरामीटर्स हैं। सरकार ने पहले ही बैंकों में 22,915 करोड़ रुपए डाले जाने की घोषणा कर दी है। इसके अलावा इस वित्त वर्ष 13 सरकारी क्षेत्र के बैंकों में 25,000 करोड़ की पूंजी डाली जानी है, इसमें से 75 फीसदी रकम पहले ही पहुंचाई जा चुकी है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Govt Approves Second Tranche Of Capital Infusion in PSU Banks(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

बीजेपी की चुनावी जीत के बाद एफपीआई ने दिखाया जोश, मार्च महीने में किया 3.4 बिलियन डॉलर का निवेशCPSE ETF 3.7 गुना ओवरसब्सक्राइब्ड हुआ, 9,700 करोड़ की बोलियां प्राप्त हुईं