नई दिल्ली, पीटीआइ। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमतों में तेजी के चलते राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को सोने के दाम में 647 रुपये प्रति दस ग्राम की तेजी दर्ज की गई। इसके साथ ही सोना 49,908 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गया। पिछले सत्र में सोना 49,261 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने बताया है कि बुधवार को दिल्ली में चांदी की कीमत भी 1,611 रुपये की तेजी के साथ 51,870 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर तक पहुंच गया था। इससे पहले मंगलवार को चांदी  50,259 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई थी।

(यह भी पढ़ेः LPG Price Increased: दूसरे महीने फिर महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानिए नए दाम)  

एचडीएफसी सिक्योरिटीज में सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा, ''अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने की कीमतों में तेजी की वजह से दिल्ली में 24 कैरेट सोने के भाव में 647 रुपये की बढ़त दर्ज की गई।''

क्या होता है वायदा बाजार?

सोने का व्यापार दो तरह से होता है। एक हाजिर बाजार में और दूसरा वायदा बाजार में। वायदा बाजार को कमोडिटी एक्सचेंज भी कहा जाता है। वायदा बाजार में वस्तु को डिजिटल माध्यम से बेचा और खरीदा जाता है। वायदा बाजार में वस्तु के पुराने और नए भावों के आधार पर भविष्य के भावों में सौदे किये जाते हैं। इस बाजार में एक तय तारीख तक के लिए सौदे होते हैं। वायदा बाजार का सीधा असर हाजिर बाजार पर पड़ता है। हाजिर बाजार और वायदा बाजार में वस्तु के भाव में कोई बड़ा अंतर नहीं होता है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव

घरेलू सर्राफा बाजार के बाद अब बात करते हैं अंतरराष्ट्रीय बाजार की। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोना कीमतों में तेजी के साथ 1,788 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। वहीं, चांदी की कीमत 18.34 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई।  

जानें क्या रही कीमतों में उछाल की वजह

पटेल के मुताबिक कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के चलते सेफ हेवेन समझे जाने वाले सोने में निवेश बढ़ा है। ऐसे में मांग बढ़ने की वजह से सोने की कीमतों में यह उछाल देखने को मिली है। इससे पहले वायदा बाजार में भी सोने की कीमतों में उल्लेखनीय उछाल देखने को मिला।

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस