नई दिल्‍ली, पीटीआइ। Reliance और Future Retail की डील टूटने के बाद बड़ी खबर आ रही है। वह यह किकर्ज में डूबे फ्यूचर रिटेल लिमिटेड (एफआरएल) के मुख्य वित्तीय अधिकारी सीपी तोशनीवाल ने 12 मई को इस्तीफा दे दिया है। तोषनीवाल का इस्तीफा कंपनी के डील से बाहर निकलने की खबर के बाद आया है। बता दें कि मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने FRL के साथ 24,713 करोड़ रुपये के सौदे को रद्द कर दिया था। इतनी रकम में Reliance अशोक बियानी के संकटग्रस्त फ्यूचर ग्रुप की प्रमुख कंपनी का अधिग्रहण कर सकती थी।

फ्यूचर रिटेल के प्रबंध निदेशक राकेश बियानी ने पिछले सप्ताह कंपनी सचिव के साथ-साथ कंपनी के अन्य अधिकारियों के साथ इस्तीफा दे दिया था। FRL ने एक नियामक फाइलिंग में कहा कि यह आपको सूचित किया जाता है कि सीपी तोशनीवाल - कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी ने 12 मई, 2022 को इस्तीफा दे दिया है। इसके परिणामस्वरूप वह प्रमुख प्रबंधकीय (‘Key Managerial Personnel’ (KMP)) भी नहीं रहेंगे। वह 12 मई, 2022 से सीएफओ और केएमपी नहीं रहे। फ्यूचर रिटेल अब नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल के समक्ष दिवाला कार्यवाही के लिए प्रयास कर रही है क्योंकि यह कर्ज चुकाने में डिफाल्ट कर चुकी है।

FRL उन 19 कंपनियों में से एक थी, जिन्हें अगस्त 2020 के सौदे के हिस्से के रूप में रिलायंस इंडस्ट्रीज को ट्रांसफर किया जाना था, जो कि Amazon India द्वारा दायर कानूनी मामलों के कारण मुसीबत में पड़ गई, जो फ्यूचर कूपन में एक शेयरधारक- FRL की होल्डिंग कंपनी थी। पिछले महीने आरआईएल के सौदे को रद्द करने के बाद एफआरएल ने कई इस्तीफे देखे हैं।

गुरुवार को प्रमोटर किशोर बियानी की बेटी अश्नी बियानी ने फ्यूचर कंज्यूमर लिमिटेड (FCL) के प्रबंध निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया था। एफसीएल के स्वतंत्र निदेशक अधिराज हरीश ने पिछले महीने कंपनी के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था।

Edited By: Ashish Deep