नई दिल्ली, प्रेट्र। मौजूदा ऊंचे दामों पर अक्षय तृतीया का पर्व भी खरीदारों को प्रेरित नहीं कर पाया। विदेश में नरमी ने भी सोमवार को सोने की चमक फीकी कर दी। इस दिन स्थानीय सराफा बाजार में पीली धातु 250 रुपये फिसलकर 30 हजार 100 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुई। बीते दो सत्रों के दौरान इसमें 250 रुपये की तेजी आई थी। औद्योगिक यूनिटों व सिक्का निर्माताओं की मांग घटने से चांदी भी 350 रुपये लुढ़ककर 41 हजार 200 रुपये प्रति किलो हो गई। बीते शनिवार को यह धातु 510 रुपये उछली थी।

अक्षय तृतीया पर सोने के आभूषण, सिक्के और अन्य चीजें खरीदी जाती हैं। इस बार कीमतें ऊंची होने की वजह से खरीदारी में खास बढ़ोतरी नहीं देखी गई। यह जरूर रहा कि त्योहारी मांग नहीं होती तो सोने में गिरावट और ज्यादा होती। बीते साल अक्षय तृतीया पर सोने की कीमत 27 हजार 100 रुपये प्रति दस ग्राम थी।

यहां सोना आभूषण के भाव 250 रुपये गिरकर 29 हजार 950 रुपये प्रति दस ग्राम हो गए। आठ ग्राम वाली गिन्नी पूर्वस्तर 23 हजार 300 रुपये पर यथावत रही। साप्ताहिक डिलीवरी वाली चांदी 365 रुपये गंवाकर 41 हजार 365 रुपये प्रति किलो बोली गई। चांदी सिक्का 69000-70000 रुपये प्रति सैकड़ा पर बिना किसी बदलाव के बंद हुआ।

पढ़ेंः दस बड़ी कंपनियों का कर्ज तय सीमा के दायरे में :SBI

Edited By: Sanjeev Tiwari