Pensioners Life Certificate । जिन पेंशनधारकों ने अभी तक अपना जीवन प्रमाण पत्र (Jeevab Pramaan Patra) संबंधित बैंक में दाखिल नहीं किया है, उनके लिए अच्छी खबर है। ऐसे लोगों के लिए सरकार ने जीवन प्रमाण पत्र (Life Certificate) दाखिल करने की आखिरी तारीख को आगे बढ़ दिया है। सरकार ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की समय अवधि 28 फरवरी, 2022 तक बढ़ा दी है।

कार्मिक लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के कार्यालय ज्ञापन में कहा गया, "विभिन्न राज्यों में चल रही कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए और बुजुर्ग आबादी के कोरोना वायरस की चपेट में आने के खतरे को देखते हुए, सभी आयु वर्ग के पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की मौजूदा समय सीमा 31.12.2021 को बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।"

इसमें आगे कहा गया, "अब, केंद्र सरकार के सभी पेंशनभोगी 28.02.2022 तक जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकते हैं। इस विस्तारित अवधि के दौरान, पेंशन संवितरण प्राधिकरणों (पीडीए) द्वारा बिना किसी रुकावट के पेंशन का भुगतान जारी रहेगा।" हालांकि, ऐसा न करने पर पेंशनभोगियों की पेंशन रुक सकती है। बता दें कि पेंशनभोगियों को हर साल जीवन प्रमाण पत्र जमा कराना होता है।

कैसे जमा करें जीवन प्रमाण पत्र?

पेंशनभोगियों द्वारा पेंशन वितरण बैंक में जाकर जीवन प्रमाण पत्र जमा किया जा सकता है। यह सबसे आम तरीका है। पेंशनरों को बैंक काउंटर पर उपलब्ध एक फॉर्म भरना होगा और उसे बैंक अधिकारी को जमा करना होगा। इसके अलावा अगर आपको बैंक डोर सर्विस देता है, तो आप उसका इस्तेमाल करके भी अपना जीवन प्रमाण पत्र जमा करा सकते हैं।

सार्वजनिक क्षेत्र के 12 बैंकों साथ आए हैं और मिलकर अपने ग्राहकों को घर-घर सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। ऐसे में बैंकों में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई), पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी), बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक, यूको बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया शामिल हैं।

Edited By: Lakshya Kumar