नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। वैश्विक तेल आपूर्ति के जल्द पटरी पर आने के संकेतों के कारण क्रूड ऑयल की कीमतों में कमी दर्ज की गई है। सऊदी अरब के एक सूत्र ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को बताया है कि तेल उत्पादन कुछ ही हफ्तों में पूरी तरह पटरी पर आ जाएगा। गौरतलब है कि बीती शनिवार सुबह दिग्गज तेल कंपनी सऊदी अरामको के तेल कुंओं पर ड्रोन अटैक हो गया था। इस अटैक के बाद कंपनी ने अपना करीब आधा उत्पादन रोक दिया था।

वैश्विक तेल आपूर्ति बाधित होने से सोमवार को क्रूड ऑयल की कीमतें करीब 20 फीसद तक बढ़ गई थीं, जिसमें मंगलवार से कमी देखी गई है। एक उच्चस्तरीय सऊदी सूत्र ने रॉयटर्स को बताया है कि तेल उत्पादन दो या तीन हफ्ते में पूरी तरह पटरी पर आ जाएगा।

आज बुधवार को भी विभिन्न एक्सचेंजों पर क्रूड ऑयल की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है। Nymex एक्सचेंज पर आज 12:52 AM (EDT) पर WTI क्रूड ऑयल की कीमत 0.54 फीसद की गिरावट के साथ 59.02 डॉलर प्रति बैरल पर चल रही थी। इसी समय ब्रेंट क्रूड का भाव ICE एक्सचेंज पर 0.17 फीसद की गिरावट के साथ 64.44 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था।

वहीं भारत की बात करें, तो यहां MCX एक्सचेंज पर क्रूड ऑयल की कीमत 0.61 फीसद की गिरावट के साथ 4,219 रुपये प्रति बैरल चल रही है।

गौरतलब है कि शनिवार सुबह अबकैक और खुराइस स्थित अरामको के तेल कुओं पर ड्रोन से हमला हुआ था। इस हमले की जिम्मेदारी हूथी विद्रोही संगठन ने ली थी। इस हमले के बाद तेल की वैश्विक आपूर्ति में प्रतिदिन 57 लाख बैरल की कमी आई है, जो कि कुल वैश्विक आपूर्ति की करीब 6 फीसद है। अरामको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिर नसीर ने हमले के बाद ही वैश्विक बाजार को आश्वस्त करते हुए कह दिया था कि वे जल्द ही आपूर्ति को पुराने स्तर पर ले आएंगे।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस