नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कॉमर्स एंड इंडस्ट्री मिनिस्टर पीयूष गोयल ने मंगलवार को कहा कि भारत और अमेरिका 'ज्यादा त्वरित' गति से ज्यादा बड़े आकार के ट्रेड डील को अंतिम रूप दे सकते हैं। उन्होंने उम्मीद जतायी कि दोनों देश लिमिटेड ट्रेड पैकेज का पहले चरण को जल्द ही अंतिम रूप दे देंगे। गोयल ने सीआइआइ के एक कार्यक्रम में यह बात कही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को व्यापार और ऊर्जा सहयोग से जुड़े प्रमुख मुद्दों पर शिष्टमंडल स्तर की बातचीत की। 

गोयल ने कहा कि दोनों नेताओं ने भारत और अमेरिका के बीच फ्री ट्रेड एग्रीमेंट (FTA) पर औपचारिक तौर पर बातचीत करने का निर्णय किया है। ट्रेड डील की गति को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ''दो-तीन कारणों से मुझे व्यक्तिगत तौर पर लगता है कि हम ज्यादा त्वरित तरीके से ज्यादा बड़ी ट्रेड डील कर सकते हैं।'' 

उन्होंने कहा कि दोनों लोकतांत्रिक देशों में कानून का शासन है जो ट्रेड डील के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण है। गोयल ने कहा, ''हम दोनों पारदर्शी इकोनॉमी हैं...हम एक दूसरे पर भरोसा कर सकते हैं। हम ज्यादा खुले तरीके से और फेयरनेस के साथ बातचीत कर सकते हैं...।''

बकौल गोयल यह ट्रेड डील दोनों देशों के हित में होगा। वहीं, इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि अगर भारत के साथ ट्रेड डील होती है तो इस साल के आखिर तक होगी। उन्होंने कहा कि भारत का फ्यूचर बहुत ही शानदार है और अगले 50 से 100 साल में भारत की भूमिका बेहद अहम हो जाएगी। हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति ने ऊंचे टैरिफ का मामला एक बार फिर उठाते हुए कहा कि भारत संभवतः दुनिया में सबसे अधिक टैरिफ वसूलने वाला देश है। उन्होंने कहा कि भारत में अपने प्रोडक्ट बेचने के लिए Harley Davidson को बहुत अधिक शुल्क देना पड़ता है। 

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

जागरण अब टेलीग्राम पर उपलब्ध

Jagran.com को अब टेलीग्राम पर फॉलो करें और देश-दुनिया की घटनाएं real time में जानें।