बीजिंग। ट्रेड वार पर चीन ने झुकने के संकेत दिए हैं। उसने अमेरिका से धमकी का रास्ता छोड़कर बातचीत की राह पर आने का आग्रह किया है। चीन का कहना है कि वह दोनों देशों के बीच के व्यापार असंतुलन को खत्म करने के लिए प्रयास करने को तैयार है। 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले हफ्ते चीन से होने वाले आयात पर शुल्क लगाने की बात कही थी। अमेरिका में चीन से करीब 60 अरब डॉलर (करीब 3.88 लाख करोड़ रुपये) का आयात होता है। अमेरिका के इस कदम के बाद चीन ने भी तीन अरब डॉलर (करीब 19 हजार करोड़ रुपये) के अमेरिकी आयात पर शुल्क बढ़ाने का एलान कर दिया था। हालांकि अब चीन के तेवर नरम होते दिख रहे हैं।

समाचार एजेंसी रायटर ने फाइनेंशियल टाइम्स के हवाले से बताया है कि चीन ने ट्रेड सरप्लस को नियंत्रित करने के लिए अमेरिका से सेमीकंडक्टर का आयात बढ़ाने का प्रस्ताव रखा है। चीन ने कहा कि वह दक्षिण कोरिया और ताइवान से आने वाले सेमीकंडक्टर का कुछ हिस्सा अमेरिका से आयात करने को तैयार है।

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चनयिंग ने कहा, "अमेरिका को आर्थिक धमकी और प्रभुत्व का रवैया छोड़ देना चाहिए। हम हर परिस्थिति में अपने कानूनी हितों की रक्षा में सक्षम हैं। अब गेंद अमेरिका के पाले में है। हम हमेशा कहते रहे हैं कि चीन आपसी सम्मान और लाभ के आधार पर बातचीत के लिए तैयार है।"

Posted By: Shubham Shankdhar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस