बेंगलुरु, पीटीआइ। केनरा बैंक ने कोविड-19 से प्रभावित अपने सभी लेनदारों को ऋण सहायता उपलब्ध कराने की घोषणा की है। बैंक ने इस संबंध में बयान जारी कर कहा है कि Canara Credit Support नकदी की तात्कालिक दिक्कतों से जूझ रहे लेनदारों को त्वरित तरीके से और बिना किसी दिक्कत के लोन उपलब्ध कराने वाली योजना है। बैंक के मुताबिक इस ऋण सहायता का इस्तेमाल लेनदार वैधानिक बकाया राशि के भुगतान, वेतन/ बिजली बिल के भुगतान और रेंट देने के लिए कर सकते हैं।  

(यह भी पढ़ेंः PM Kisan रजिस्टर में ऐसे दुरुस्त कराएं अपने नाम, 2000 रुपये की किस्त मिलने में नहीं आएगी दिक्कत) 

केनरा बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कंपनी ने कृषि क्षेत्र, स्वयं सहायता समूहों और रिटेल कैटेगरी के लिए 4,300 करोड़ रुपये मूल्य के करीब 6 लाख लोन को अपनी मंजूरी दी है। बैंक SMS, कॉल सेंटर, ईमेल और फोन के जरिए पात्र लेनदारों से संपर्क कर रहा है और उन्हें इस योजना के बारे में बता रहा है।  

बैंक ने साथ ही कहा है कि उसने 20 मार्च से अब तक कॉरपोरेट कंपनियों और MSMEs को 60,000 करोड़ रुपये के लोन को मंजूरी दी है।  

(यह भी पढ़ेंः Lockdown में भी झटपट बनवा सकते हैं PAN Card, बस करना होगा ये काम) 

केनरा बैंक के MD और CEO एल वी प्रभाकर ने कहा है, ''हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि लॉकडाउन के पूरी तरह से हटने के बाद हमारे ग्राहक बैंक की ओर से मंजूर किए गए लोन का फायदा पूर्ण रूप से उठा सकेंगे और अपने कारोबार को बेहतर बना सकेंगे।''

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस