नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। अरबपति व्यवसायी मुकेश अंबानी और दिग्गज टेलिकॉम कंपनी के मालिक सुनील भारती मित्तल ने बॉण्ड बिक्री के जरिए 365 बिलियन रुपए (5.6 बिलियन डॉलर) जुटाने की योजना बनाई है। इसे बॉण्ड मार्केट के लिए एक सकारात्मक संकेत माना जा रहा है

सुनील भारती मित्तल के स्वामित्व वाली भारती एयरटेल ने पिछले महीने ही 30 बिलियन रुपए के रूपी बॉण्ड की बिक्री की थी और उसे 165 बिलियन डॉलर जुटाए जाने की मंजूरी मिली हुई है। 12 मार्च की फाइलिंग के जरिए यह जानकारी सामने आई है। वहीं इसके ठीक अगले दिन रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड ने घोषणा की थी कि वो 200 बिलियन रुपए के नोट्स की बिक्री करेगी। यह करीब 20 महीने के बाद तटस्थ बॉण्ड मार्केट में वापसी के संकेत देता है।

कुल जुटाई जाने वाली राशि भारत की शीर्ष चार दूरसंचार कंपनियों के कुल बकाया बांडों का 78 फीसद हिस्सा है। यह उस बात का संकेत है कि दिग्गज टेलिकॉम कंपनी एयरटेल और उसकी प्रतिद्वंदी कंपनी जियो लोगों को नई पीढ़ी की सेवाएं देने के लिए तैयार हैं। साथ ही ये अगले पांच वर्षों में करीब 320 अरब रुपए के कर्ज का प्रबंधन करने में सक्षम हैं।

गौरतलब है कि साल 2016 में रिलायंस जियो ने टेलिकॉम सेक्टर में एंट्री की थी। जियो की इस एंट्री ने टेलिकॉम सेक्टर में इतनी खलबली मचाई कि प्रमुख टेलिकॉम कंपनियां मर्जर को तैयार हो गई और कुछ ने मार्केट से बाहर निकलने तक का फैसला कर लिया।

Posted By: Praveen Dwivedi