मुंबई। पीटीआइ। BEST Undertaking ने अपने उपभोक्ताओं को बिजली बिल के भुगतान के लिए तीन माह की ईएमआई की सुविधा दी है। अथॉरिटी ने बयान जारी कर यह जानकारी दी है। हालांकि, उसने कहा है कि यह सुविधा उन अकाउंट्स के लिए ही है, जिनका बिल तीन माह (मार्च से मई) के औसत से दोगुना है। बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट (BEST) Undertaking ने अपने वाणिज्यिक एवं औद्योगिक ग्राहकों को निर्धारित शुल्क पर तीन माह के मोराटोरियम की सुविधा दी है। BEST Undertaking मुंबई में बिजली की आपूर्ति करती है और कंपनी के ग्राहकों की संख्या 10 लाख के आसपास है।

(यह भी पढ़ेंः सरकार से सस्ते में सोना खरीदने का मौका, जानें क्या है रेट और निवेश की प्रक्रिया)

कंपनी ने कहा है, ''जिन उपभोक्ताओं का बिजली बिल मार्च और मई के बीच की अवधि के बिल के औसत के दोगुना से ज्यादा आया है, वे कैरिइंग कॉस्ट के साथ तीन किस्त में भुगतान कर सकते हैं। ''

BEST के साथ-साथ महाराष्ट्र में बिजली की आपूर्ति करने वाली अन्य कंपनियां MSEDCL, Adani Electricity Mumbai और Tata Power जून में बिजली के बढ़े हुए बिल को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे हैं।

BEST ने स्पष्ट किया है कि लॉकडाउन की अवधि में जेनरेट बिल मार्च में उपभोग पर आधारित हैं। अथॉरिटी के आवासीय ग्राहकों की संख्या 7.6 लाख के आसपास है और औद्योगिक उपभोक्ताओं की संख्या 8,836 है। 

(यह भी पढ़ेंः EPFO Account: बहुत आसानी से ऑनलाइन ट्रांसफर कर सकते हैं पीएफ खाता, जानें पूरी प्रक्रिया) 

BEST ने कहा है, ''अप्रैल, मई और जून के महीनों में आम तौर पर कंजम्शन बढ़ जाता है। लॉकडाउन के दौरान लोग घरों में थे और कई मामलों में इस वजह से भी घरेलू कंजम्शन में वृद्धि संभव है।''

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस