नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। खुद को संकट से उबारने में लगी कंपनी के सामने रोज नई समस्याएं खड़ी हो रही हैं। इस बीच एयरलाइन एयरक्राफ्ट इंजीनियर्स यूनियन ने कहा है कि कर्मचारियों को बीते तीन महीने से वेतन नहीं मिला है, ऐसे में जेट एयरवेज फ्लाइट की सेफ्टी जोखिम में है।


एरयलाइंस के एयरक्राफ्ट मेंटनेंस इंजीनियर्स यूनियन ने डीजीसीए को पत्र लिखकर बताया है कि उन्होंने तीन महीनों का वेतन नहीं मिला है और विमान की सुरक्षा ''खतरे'' में है।

डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) को लिखी गई चिट्ठी में जेट एयरक्राफ्ट इंजीनियर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने कहा है, 'हमारे लिए हमारी वित्तीय जरूरतों को पूरा करना जरूरी है और ऐसा नहीं होने की स्थिति में काम कर रहे एयरक्राफ्ट इंजीनियर्स की मानसिक स्थिति पर बुरा असर पड़ा है, जो जेट एयरवेज के देसी और विदेशी उड़ान की सुरक्षा को खतरे में डाल रहा है।'

जेट से जुड़े अब तक के बड़े अपडेट:

नरेश गोयल ने कर्मचारियों को लिखा पत्र: नकदी संकट का सामना कर रही 25 वर्ष पुरानी विमानन कंपनी जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल ने अपने कर्मचारियों को एक पत्र लिखा है। अपने इस पत्र में उन्होंने करीब 16,000 कर्मचारियों से कहा है वो भरोसा रखें, कंपनी में स्थिरता बहाली के प्रयास किए जा रहे हैं, जिसकी सख्त जरूरत है। उन्होंने कहा कि इसके परिचालन को जल्द सुचारू बना लिया जाएगा।

जेट एयरवेज ने अबू धाबी से अपनी सभी उड़ानें कीं बंद: जेट एयरवेज ने सोमवार से ही अबू धाबी एयरपोर्ट से अपनी सारी उड़ानें अनिश्चित काल के लिए बंद कर दी हैं। विमानन कंपनी की ओर से इसकी वजह ऑपरेशनल बताई गई है। अबू धाबी जेट एयरवेज के लिए दो प्रमुख अंतरराष्ट्रीय हब में से एक है। यूरोप और इसके अलावा अन्य उड़ानों के लिए डच कैपिटल एम्स्टर्डम एयरलाइन के लिए यूरोपियन गेटवे है।

जेट के 41 विमान परिचालन से बाहर: एयरलाइन्स का कहना है कि वो वित्तीय बाधाओं के कारण अपने डिबेंचर होल्डर्स को ब्याज भुगतान करने में देरी करेगी, जिसकी ड्यू डेट 19 मार्च है। कंपनी ने सोमवार को अपने चार और विमानों को खड़ा कर दिया। इसके साथ ही कंपनी के परिचालन के बाहर होने वाले विमानों की संख्या 41 हो गई है, जो कि इसके बाड़े के एक तिहाई संख्या से ज्यादा है।

Posted By: Praveen Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस