मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। इंडियन कमर्शियल पायलट्स एसोसिएशन (आईसीपीए) ने आरोप लगाया है कि विमानन नियामक डीजीसीए ने सेवानिवृत्त संयुक्त निदेशकों में से एक के लिए हाल ही में सलाहकार पद बनाया है। आईसीपीए की ओर से आरोप लगाया है कि जिस व्यक्ति का नाम सलाहकार पद के लिए चुना गया है उसपर एफआईआर है।

डीजीसीए को लिखे एक पत्र में ग्रुप ने अनुरोध किया है कि या तो रिक्त पदों को वापस लिया जाए या फिर भर्ती के लिए शर्तों के साथ उचित मापदंड अपनाया जाए। पत्र के बारे में डीजीसीए के प्रमुख बी एस भुल्लर ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया कि वह आवेदन खत्म होने की तारीख के बाद ही इस पर कोई टिप्पणी कर सकते हैं।

जानकारी के मुताबिक, पत्र में आईसीपीए ने कहा कि हाल ही में उसे डीजीसीए में पूरी तरह अनुबंध के आधार पर सलाहकार पद भरने के लिए आवेदन के बारे में जानकारी दी गई थी। आईसीपीए ने यह भी संकेत दिया कि यह एक व्यक्ति के हितों के लिए ज़रूरत के मुताबिक बने स्थितियों को भी चुनौती दे सकता है।

डीजीसीए को लिखे पत्र के अनुसार, यह काफी गंभीर और चिंता का विषय है कि किसी एक व्यक्ति के लिए एक नया पोस्ट क्रिएट किया गया है।

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप