नई दिल्ली, पीटीआइ। दिग्गज उद्योगपति गौतम अडाणी का कारोबारी समूह घाटे में चल रही सरकारी एयरलाइन कंपनी Air India के लिए बोली लगाने पर विचार कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक समूह किसी भी तरह की योजना को अंतिम रूप देने से पहले बिडिंग (बोली) से जुड़े दस्तावेजों का आकलन कर रहा है। सरकार ने एयरलाइन की 100 फीसद हिस्सेदारी बेचने के लिए बोली आमंत्रित की है। अडाणी समूह के इस सौदे में रुचि दिखाने से अवगत सूत्रों ने बताया कि Adani Group की मर्जर एंड एक्विजिशन (M&A) टीम Air India के बोली दस्तावेजों का अध्ययन कर रही है। 

Tata Group, Hindujas ने भी दिखाई है दिलचस्पी

अगर अडाणी समूह सरकारी एयरलाइन के लिए बोली लगाता है तो वह Tata Group, Hindujas और IndiGo जैसी कंपनियों की लिस्ट में शामिल हो सकता है, जो एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EoI) दाखिल करने पर विचार करते हुए बताए जा रहे हैं।  

6 एयरपोर्ट का संचालन कर रहा है अडाणी समूह

हालांकि, इस विषय में प्रतिक्रिया के लिए अडाणी समूह के प्रवक्ता से तत्काल संपर्क नहीं किया जा सका है। अडाणी समूह ने पिछले साल छह एयरपोर्ट- अहमदाबाद, लखनऊ, जयपुर, गुवाहाटी, तिरूवनंतपुरम और मेंगलुरु- को ऑपरेट करने के लिए सफल बोली लगाई थी।  

बढ़ सकती है Air India के लिए बोली लगाने की समयसीमा

सरकार Air India में 100% हिस्सेदारी बेचने की 17 मार्च की समयसीमा बढ़ा सकती है। गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व वाली इंटर-मिनिस्ट्रियल पैनल इस सप्ताह नयी तारीख को लेकर फैसला कर सकती है। अधिकारियों ने बताया है कि Air India में दिलचस्पी दिखाने वाले बोलीदाताओं के पास अब 'वर्चुअल डेटा रूम' का एक्सेस होगा। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में कुछ और सवाल सामने आ सकते हैं। इन सवालों पर ट्रांजैक्शन और सिविल एविएशन मिनिस्ट्री स्पष्टीकरण देगा। 

अडाणी समूह कर्ज और घाटा के आकलन के आधार पर Air India के लिए बोली लगाने को लेकर निर्णय करेगा। पिछले साल सितंबर तक के आंकड़े के मुताबिक Air India और उसकी अनुषंगी Air India Express के पास 126 विमान हैं। 

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस