नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। जिन छात्रों ने अभी-अभी अपने कॉलेज जीवन की शुरुआत की है, उन्हें पर्सनल फाइनेंस मैनेज करना मुश्किल लगता है। क्योंकि घर से बाहर जाने पर कई सारे छोटे-छोटे खर्चे होते हैं। कॉलेज जीवन के शुरुआती वर्षों के दौरान, छात्रों का एक बड़ा वर्ग ऐसा है जो अपने मासिक बजट को पार कर जाता है, क्योंकि उनके लिए महीने के खर्च के वास्ते जो पैसे दिए जाते हैं कई बार उससे अधिक खर्च हो जाता है और घर से पैसा मंगाना पड़ता है। ऐसे में कई बार वे बड़े भाई-बहनों या दोस्तों से अतिरिक्त धन उधार लेने के लिए मजबूर हो जाते हैं। हम कॉलेज के छात्रों के लिए 5 पर्सनल फाइनेंस के टिप्स बता रहे हैं।

बजट के भीतर खर्च करने की कोशिश

यह कॉलेज के सभी छात्रों के लिए पहली और महत्वपूर्ण सलाह है क्योंकि बजट के भीतर खर्च करने से न केवल पर्सनल फाइनेंस को सुचारू बनाने में मदद मिलती है, बल्कि यह सबसे खराब समय के लिए पैसा बचाने में मदद करता है।

ज्यादा खर्च पर लगाम लगाएं

छात्रों को हमेशा अतिरिक्त खर्च पर ध्यान देना चाहिए। उन्हें अनावश्यक रूप से खर्च पर ध्यान देकर केवल जरूरी चीजों पर ही खर्च करना चाहिए।

साथियों से पैसे उधार लेने से बचें

छात्रों को पैसे के ऐसे सोर्स पर ध्यान नहीं देना चाहिए जिसके जरिये क्षणिक जरूरतें पूरी होती हों। बार-बार दोस्तों से पैसे मांगना और समय पर उन्हें वापस न करना आपके रिश्ते को खराब कर सकता है।

पढ़ने तक ही किताबें खरीदें

कुछ छात्रों को किताबों और सहायक पत्रिकाओं को इकट्ठा करना पसंद होता है, जिसकी जरूरत आमतौर पर होती नहीं है। यह आमतौर पर बोर्ड या विश्वविद्यालयों द्वारा निर्धारित पारंपरिक पठन सामग्री की तुलना में अधिक होते हैं। बहुत सारी किताबें खरीदने के बजाय, छात्रों को अन्य विकल्पों जैसे किताबें, संबंधित सामग्री, आदि की सॉफ्ट कॉपी की तलाश करनी चाहिए।

ऑफर का ध्यान रखें

छात्रों को खर्च कम करने के लिए डाइनिंग आउट, अध्ययन सामग्री, यात्रा, वाहन खरीदने, गैजेट्स खरीदने पर छूट की तलाश करनी चाहिए। 

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस