नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। सरकारी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) एक विशेष प्रकार की फिक्स्ड डिपॉजिट या टर्म डिपॉजिट स्कीम की पेशकश करता है जिसे मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट स्कीम (मोड्स) के नाम से भी जाना जाता है। फिक्स्ड डिपॉजिट बैंकों की ओर से उपलब्ध करवाया जाने वाला एक सुरक्षित वित्तीय टूल होता है जो कि गारंटीड रिटर्न देता है। आप एसबीआई में मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट (एमओडी) नाम की एफडी खुलवा सकते हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप जरूरत पड़ने पर कभी भी 1000 रुपये के गुणांक में कई बार पैसे निकाले जा सकते हैं। साथ ही इसके लिए आपको बैंक जाने की भी जरूरत नहीं होगी। इस राशि की निकासी एटीएम के जरिए की जा सकती है।

गौरतलब है कि एमओडी टर्म डिपॉजिट की तरह है। लेकिन यह जमाकर्ता के सेविंग्स या करंट एकाउंट से लिंक होता है। इससे अगर जमाकर्ता लिंक किये गये खाते से पैसों की निकासी करना चाहता है और उतनी राशि खाते में मौजूद नहीं है तो इस स्थिति में वह एमओडी से भी निकाल सकता है।

जानिए एसबीआई के मल्टी ऑप्शन फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट के बारे में:

अकाउंट लिंकेज: यह स्कीम जमाकर्ता के सेविंग्स या करंट एकाउंट से लिंक होती है। यह जानकारी बैंक की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

मिनिमम अमाउंट: मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट अकाउंट में मिनिमम फिक्स्ड डिपॉजिट अमाउंट 10,000 रुपये का होता है। इससे ऊपर की राशि 1000 के गुणकों में होनी चाहिए।

मैक्सिमम अकाउंट: हालांकि इसमें निवेश की कोई ऊपरी सीमा नहीं होती है। इस तरह के फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट में आप कितनी भी राशि जमा करा सकते हैं।

मिनिमम टेन्योर: यह अकाउंट न्यूनतम एक वर्ष के लिए खोला जा सकता है।

मैक्सिमम टेन्योर: एसबीआई के मल्टी ऑप्शन फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट के लिए मैक्सिमम टेन्योर 5 वर्षों का होता है।

ब्याज दर: एसबीआई के मल्टी ऑप्शन फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट पर उतना ही ब्याज मिलता है जितना की सामान्य फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट में। एसबीआई ने हाल ही में अपनी फिक्स्ड डिपॉजिट दरों में संशोधन किया है। एक वर्ष से तीन वर्ष की अवधि के लिए सामान्य लोगों के लिए ब्याज दर 6.8 फीसद और वरिष्ठ जनों के लिए 7.3 फीसद हो गई है। यही समान दर 2 से तीन साल और 3 से 5 साल तक की अवधि वाली एफडी पर मिलेगी।

मैच्योरिटी पूर्व निकासी: एसबीआई के मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट अकाउंट में मैच्योरिटी पूर्व निकासी की अनुमति मिलती है।

नॉमिनेशन: एसबीआई के मुताबिक उसकी मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट स्कीम अकाउंट में नॉमिनेशन फैसिलिटी भी मिलती है।

मिनिमम बैलेंस: इस खाते में ग्राहकों को मिनिमम मंथली एवरेज बैलेंस मैंटेन करने की जरूरत नहीं होती है, जो कि सेविंग बैंक अकाउंट से लिंक होता है।

अन्य फीचर: मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट अकाउंट में लोन की सुविधा भी उपलब्ध होती है। एसबीआई के मुताबिक इस स्कीम में निवेश पर टीडीएस लागू होता है।

Posted By: Praveen Dwivedi