नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। Citi Bank के कारोबार को खरीदने के लिए प्राइवेट सेक्‍टर का एक्सिस बैंक (Axis Bank) उत्‍सुक लग रहा है। उसने सिटी बैंक के उपभोक्ता कारोबार को खरीदने के लिए सबसे बड़ी बोली लगाई है। अमेरिका के सिटी बैंक ने अप्रैल में वैश्विक रणनीति के तहत भारत में अपने उपभोक्ता बैंक कारोबार से अलग होने की घोषणा की थी।

रिटेल बैंकिंग से लेकर क्रेडिट कार्ड तक का कारोबार

Citi Bank देश में क्रेडिट कार्ड, खुदरा बैंकिंग, कर्ज और धन प्रबंधन जैसी सेवाएं प्रदान करता है। देश में बैंक की 35 शाखाएं हैं और उपभोक्ता बैंक व्यवसाय से लगभग 4,000 लोग जुड़े हुए हैं।

बैंक के कारोबार का मूल्यांकन लगभग दो अरब डॉलर

सूत्रों के अनुसार बैंक के कारोबार का मूल्यांकन लगभग दो अरब डॉलर (13,000 करोड़ रुपये) हो सकता है। उन्होंने बताया कि बैंक का अंतिम मूल्यांकन सभी नियामक मंजूरी मिल जाने के बाद जमा की मात्रा, ग्राहकों, संपत्ति की मात्रा और देनदारियों समेत अन्य मापदंडों के आधार पर किया जाएगा।

एक्सिस बैंक के इस बोली को जीतने से फायदा

सूत्रों ने बताया कि एक्सिस बैंक के इस बोली को जीतने से उसके बही खाते के आकार का विस्तार होगा और खुदरा क्षेत्र में महत्वपूर्ण वृद्धि होगी। इस प्रस्तावित सौदे को लेकर एक्सिस बैंक और सिटी बैंक को भेजे गए ई-मेल का फिलहाल कोई जवाब नहीं आया।

दूसरे बैंक भी कारोबार खरीदने की दौड़ में

Citi Bank का खुदरा कारोबार खरीदने में एचडीएफसी बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक भी होड़ में हैं। बैंक का खुदरा कारोबार खरीदने के लिए डीबीएस बैंक भी उत्‍सुक है। यह डील कैश में हो सकती है। इस दौड़ में Kotak Mahindra Bank और IndusInd Bank भी शामिल थे। कोटक महिंद्रा बैंक शीर्ष दावेदार होने की उम्मीद थी, लेकिन एक्सिस बैंक एक बेहतर पेशकश के साथ आया। दोनों बैंकों में यह डील दो अरब डॉलर की हो सकती है। ( Pti इनपुट के साथ )

Edited By: Ashish Deep