Menu
blogid : 24800 postid : 1311533

रुस्तम बनाम नानावटी

VIRENDER.VEER.MEHTA

  • 7 Posts
  • 1 Comment

हो सकता है अधिकतर लोग जानते होंगे कि वर्ष २०१६ की चर्चित फिल्म “रुस्तम” (अक्षय कुमार और इलिआना डीक्रुज अभिनीत) हिन्दुस्तान के चर्चित ‘नानावटी केस’ (१९५९) पर बनाई गयी थी, लेकिन शायद यह बहुत कम लोग जानते होंगे इसकी नायिका पात्र यानि वास्तिवक जीवन में ‘सिल्विया’ अभी भी अपने बच्चो के साथ कैनेडा में रहती है जबकि खुद नानावती (कवास मानेक्षव् नानावटी) वर्ष २००३ में संसार छोड़ कर जा चुके है….

ऐसा नहीं है कि इस केस पर ‘रुस्तम’ पहली बार बनायी गयी फिल्म है, इससे पहले भी इस पर दो बार फिल्म बन चुकी है

पहले १९६३ में सुनील दत्त और लीला नायडू को लेकर बनायी गयी थी जो इस कथानक से मिलती जुलती थी लेकिन कोर्ट केस को काफी हद तक बदल दिया गया था. और बॉक्स ऑफिस पर ये फिल्म सफल नहीं हो पायी थी…

लेकिन १९७३ में इसी कथानक पर आधारित फिल्म ‘अचानक’ गुलजार साहब के निर्देशन में आई थी जिसमे विनोद खन्ना और लिल्ली चक्रवर्ती ने मुख्य भूमिका निभाई थी… और ये फिल्म वर्ष की सुपर हिट फिल्म साबित हुयी थी…..

फिल्म रुस्तम की विशेषता ये रही कि इसने केस से जुड़े सभी पह्लुओं को हु ब हु फिल्म में दिखाने का प्रयास किया, चाहे वह हत्या के समय ‘टॉवल बांधे’ होने का द्रश्य हो या फिर मीडिया द्वारा रुस्तम का किया गया सपोर्ट हो…..

वास्तिवक केस में सबसे दिलचस्प बात ये है कि बाद में नानावटी को उपरी अदालत में सजा हो गयी थी और तीन वर्ष सजा काटने के बाद ‘राजनितिक और पारसी समुदाय’ के आपसी घटनाक्रम में ‘प्रेम आहूजा’ (जिसकी हत्या हुयी थी) की बहन ममी आहूजा द्वारा माफीनामे के बाद, नानावटी को रिहा किया गया था. और बाद में वह अपने परिवार के लेकर कैनेडा चले गए थे…….
// वीर // ss

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *