Menu
blogid : 312 postid : 1394078

46 साल पहले इस भारतीय ने खेली थी मैराथन पारी, पहले वर्ल्‍डकप मैच में कोई भी नहीं कर पाया था आउट

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 7 Jun, 2021
Sunil Gavaskar. Image courtesy-ESPNcricinfo

विश्‍व क्रिकेट में भारतीय प्‍लेयर्स का हमेशा से ही जलवा रहा है। खेल के हर क्षेत्र में भारतीय प्‍लेयर्स ने रिकॉर्ड बनाए हैं। आज से ठीक 46 साल पहले पहले वनडे विश्‍वकप में भारतीय सलामी बल्‍लेबाज ने ऐसी पारी खेली थी कि कोई गेंदबाज उसे पहली बॉल से लेकर आखिरी बॉल तक आउट नहीं कर सका था। ये मैराथन पारी खेलने वाले बल्‍लेबाज थे सुनील गावस्‍कर। जो बाद में भारत के सफलतम प्‍लेयर्स में शुमार हुए।

वनडे क्रिकेट का पहला विश्‍वकप
अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद ने साल 1975 में पहली बार लिमिटेड ओवर यानी वनडे विश्‍वकप कराने का फैसला किया। इससे पहले तक टेस्‍ट मैच खेले जाते थे। यह विश्‍वकप वनडे क्रिकेट के इतिहास का सबसे बड़ा टूर्नामेंट बना। पहले विश्‍वकप में शामिल 8 टीमों को दो ग्रुप में बांटा गया था। विश्‍वकप के उद्घाटन मैच में मेजबान टीम इंग्‍लैंड और मेहमान टीम इंडिया आमने सामने थे।

इंग्लिश बल्‍लेबाज डेनिस ने ठोके 137 रन
60 ओवर के मैच में लॉड्स के मैदान पर इंग्‍लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का फैसला किया। इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाजों के सामने भारतीय गेंदबाजों का कमाल नहीं चला। इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाज डेनिस एमिस ने ताबड़तोड़ तरीके से 147 बॉल में 137 रनों की पारी खेली। बल्‍लेबाज कीथ फ्लेचर ने 68 रन बनाए और क्रिस ओल्‍ड के 56 रनों के योगदान से इंग्‍लैंड ने 60 ओवर में 334 रनों का पहाड़ जैसा स्‍कोर खड़ा कर दिया।

टीम इंडिया के शीर्ष बल्‍लेबाज सस्‍ते में लौटे
जवाब में लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया के लिए सुनील गावस्‍कर और एकनाथ सोलकर बतौर सलामी बल्‍लेबाज मैदान पर पहुंचे। भारतीय बल्‍लेबाज इंग्‍लैंड के गेंदबाजों के सामने संघर्ष करते दिखे। सलामी बल्‍लेबाज एकनाथ सोलकर 8 रन, अंशुमान गायकवाड़ 22 रन, गुंडप्‍पा विश्‍वनाथ 37 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

आखिरी बॉल तक नाटआउट रहे गावस्‍कर
इस मैच में सुनील गावस्‍कर ने मैराथन पारी खेली। वह पहले ओवर से लेकर मैच की आखिरी बॉल तक आउट नहीं हुए। सुनील गावस्‍कर ने 174 गेंदें खेलीं और 36 रन बनाकर नाटआउट रहे। गावस्‍कर ने अपनी पारी में एकमात्र चौका लगाया। इस मैराथन पारी के बाद सुनील गावस्‍कर टीम के सबसे बेहतर बल्‍लेबाज बनकर उभरे। गावस्‍कर ने करियर में कई वर्ल्‍डकप खेले और कई रिकॉर्ड अपने नाम किए। हाल ही में उन्‍हें आईसीसी ने हॉल ऑफ फेम क्रिकेटर्स लिस्‍ट में जगह दी है।

वेस्‍टइंडीज ने जीता था पहला विश्‍वकप
विश्‍वकप के पहले मैच में टीम इंडिया कुल 60 ओवर में 3 विकेट खोकर 132 रन ही बना सकी थी। इंग्‍लैंड को इस मैच में जीत मिली और उसके बल्‍लेबाज डेनिस एमिस को प्‍लेयर ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया। साल 1975 के विश्‍वकप में टीम इंडिया ने कुल 3 मैच खेले थे और 1 में जीत हासिल की थी। उस साल की वर्ल्‍डकप चैंपियन वेस्‍टइंडीज टीम रही थी और ऑस्‍ट्रेलिया उपविजेता बनी थी।

 

ये भी पढ़ें : 

PSL 2021 का पहला मैच 9 जून को, पूरा शिड्यल देखें

10 साल में होंगे 15 आईसीसी T20 और ODI वर्ल्‍डकप, लिस्‍ट देखें 

साउथ अफ्रीकी गेंदबाज बना क्रिकेटर ऑफ द ईयर, 4 अवॉर्ड और झटके

लंका प्रीमियर लीग का दूसरा सीजन जुलाई में, देखें शिड्यूल

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *