Menu
blogid : 312 postid : 1393767

मैच फिक्सिंग के आरोपों से मुक्त हुआ श्रीलंकाई बल्लेबाज, इन प्लेयर्स पर लग चुका है प्रतिबंध

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 11 May, 2021

क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार मामलों ने पिछले कुछ वर्षों में श्रीलंका क्रिकेट की छवि को काफी नुकसान पहुंचाया है। इस बीच श्रीलंका का पूर्व दिग्गज बल्‍लेबाज और कोच भ्रष्‍टाचार के सभी आरोपों से मुक्‍त हो गया है। कड़ी जांच प्रक्रिया के बाद ट्रिब्‍यूनल ने क्रिकेटर पर लगे चार्जेस हटाते हुए अंतराष्‍ट्रीय क्रिकेट में वापसी बहाल कर दी है। बता दें कि जनवरी से लेकर अब तक 3 क्रिकेटर फिक्सिंग मामलों में बैन लग चुका है। इनमें एक श्रीलंकाई क्रिकेटर भी शामिल रहा है।

Avishka Gunawardene.

आईसीसी के कड़े नियम
क्रिकेट को भ्रष्‍टाचार से मुक्‍त रखने के लिए आईसीसी ने कड़े नियम बनाए हैं। इनका उल्‍लंघन करने वाले क्रिकेटर या क्रिकेट टीम से जुड़े लोगों को सजा के तौर पर आजीवन बैन समेत अन्‍य प्रतिबंध झेलने पड़ते हैं। बावजूद कुछ लोग बहककर गलत रास्‍ते पर चले जाते हैं। मैच में भ्रष्‍टाचार के अब तक कई मामले सामने आ चुके हैं और नतीजतन कई प्‍लेयर्स पर बैन भी लग चुका है।

अविष्‍का पर टी10 लीग में लगे थे आरोप
साल 2017 में श्रीलंका के दिग्‍गज क्रिकेटर अविष्‍का गुनावर्धने को ईसीबी यानी एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड की ओर से भ्रष्‍टाचार मामलों में आरोपी बनाया गया था। ईसीबी की टी10 लीग के एक मैच के नतीजे प्रभावित करने के लिए कुछ प्‍लेयर्स के नाम फिक्सिंग में सामने आए थे। इनमें श्रीलंका के अविष्‍का गुनावर्धने का नाम भी था।

4 साल बाद आरोप मुक्‍त हुआ बल्‍लेबाज
ईसीबी की तरफ से आरोप लगने के बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने अविष्‍का को बर्खास्‍त कर दिया था। 2019 में अविष्‍का ने स्‍वतंत्र जांच ट्रिब्‍यूनल में अपील दायर करते हुए जांच की मांग की थी। श्रीलंका क्रिकेट के अनुसार ट्रिब्‍यूनल ने अविष्‍का को निर्दोष पाते हुए उनपर लगे सभी आरोप खारिज कर दिए हैं। जांच कमेटी ने अविष्‍का को अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में वापसी करने के लिए स्‍वतंत्र कर दिया है।\

भ्रष्‍टाचार की चपेट में आ चुके कई श्रीलंकाई
इससे पहले श्रीलंका के कोच रहे नुवान जोयसा को आईसीसी ने नंवबर 2020 में भ्रष्‍टाचार के आरोपों में दोषी पाया था। जनवरी 2021 में श्रीलंकाई ऑलराउंडर दिल्‍हारा लोकुटिगे को भी आईसीसी ने भ्रष्‍टाचार का दोषी पाया था। इससे पहले सनथ जयसूर्या, जयानंदा वार्नवीरा भी भ्रष्‍टाचार आरोपों में दोषी करार दिए जा चुके हैं।

Avishka Gunawardene.

2 महीने पहले यूएई के 2 प्‍लेयर्स पर लग चुका है बैन
मार्च 2021 में आईसीसी ट्रिब्‍यूनल ने यूएई टीम के कप्‍तान रहे मोहम्‍मद नावेद और बल्‍लेबाज शाइमन अनवर बट को एंटी करप्‍शन नियमों के उल्‍लंघन का दोषी पाया था। दोनों खिलाडि़यों को 8 साल के लिए क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया गया। 33 साल के गेंदबाज नावेद यूएई के लिए 70 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेल चुके हैं। वहीं, 42 साल के शाइमन 72 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेल चुके हैं।…Next

 

 

ये भी पढ़ें : पहली बार पाक ने जीता आईसीसी मंथ अवॉर्ड, रिकॉर्ड भारत के पास

WTC फाइनल में न्यूजीलैंड के बाद श्रीलंका से भिड़ेगी टीम इंडिया

टी20 क्रिकेट की रन मशीन हैं ये 4 बल्लेबाज

IPL Tally: बाउंड्री जड़ने में सबसे आगे DC का बल्लेबाज

IPL : रैना, धोनी, कोहली और गिलक्रिस्ट के नाम खास रिकॉर्ड

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *