Menu
blogid : 312 postid : 1395679

झूलन गोस्वामी ने बचपन में देखा था क्रिकेटर बनने का ख्वाब, डेब्यू मैच में स्पीड से मचाया था तहलका

मह‍िला क्रिकेट में सर्वाध‍िक व‍िकेट लेने का र‍िकॉर्ड अपने नाम रखने वाली झूलन गोस्‍वामी बचपन से ही क्रिकेटर बनना चाहती थीं। उन्‍होंने अपनी तेज रफ्तार से डेब्यू मैच में ही तहलका मचा द‍िया था। 25 नवंबर को 39वां जन्‍मद‍िन सेलीब्रेट कर रहीं झूलन टेस्‍ट क्रिकेट में दुन‍िया की दूसरी सबसे अनुभवी मह‍िला क्रिकेटर भी हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan 25 Nov, 2021

 

 

पश्चिम बंगाल के नदिया से शुरू हुआ सफर- 
पश्चिम बंगाल के नदिया जिले में 25 नवम्बर 1982 को जन्मी झूलन गोस्वामी को बचपन से क्रिकेट में दिलचस्पी थी। वह आसपास के लड़कों के साथ टेनिस बॉल से ​क्रिकेट खेलती थीं। झूलन जब गेंद फेंकतीं तो गति बहुत धीमी रहती और लड़के उनका मजाक बनाते और उन्हें सिर्फ बल्लेबाजी करने का ताना मारते। झूलन ने लड़कों के साथ बराबरी के लिए खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत करने की ठान ली और यहीं से शुरू हो गई उनकी क्रिकेट यात्रा।

सनसनाती गेंदों ने सेलेक्टर्स का ध्यान खींचा- 
झूलन गोस्वामी जब 15 साल की थीं तब क्रिकेटर बनने का ख्वाब देखती थीं। उस वक्त तक वह तय कर चुकी थीं कि वह गेंदबाज बनेंगी और उनकी तेज रफ्तार गेंदबाजी ने डॉमेस्टिक क्रिकेट के सेलेक्टर्स का ध्यान खींच लिया। 1997 के महिला विश्वकप ने उनका टीम इंडिया के लिए खेलने का जूनून बढ़ा दिया। डॉमेस्टिक क्रिकेट में तेज गेंदबाजी से तहलका मचाने वाली झूलन को पहली बार वुमेंस नेशनल टीम में इंग्लैंड के खिलाफ जनवरी 2002 में वनडे सीरीज में मौका दिया गया।

डेब्यू मैच में मचा दिया तहलका-
झूलन ने इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू करते हुए चेन्नई के गुरुनानक कॉलेज ग्राउंड में तेज रफ्तार गेंदबाजी से तहलका मचा दिया। उन्होंने 120 किमी. प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हुए इंग्लैंड के बल्लेबाजों की हवा निकाल दी। झूलन ने 7 ओवर में सिर्फ 15 रन दिए और 2 महत्वपूर्ण विकेट चटकाए। इस मैच इंडिया को जीत हासिल हुई। इसके बाद झूलन को जनवरी 2002 में टेस्ट टीम में शामिल किया गया।

भारत की सबसे तेज गेंदबाज- 
झूलन गोस्वामी भारत की सबसे तेज गेंदबाज हैं। झूलन ने 122 किमी. प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की है। विश्व में सबसे तेज गेंदबाजी करने का रिकॉर्ड आस्ट्रेलिया की पूर्व क्रिकेटर कैथरीन फिजपैट्रिक के नाम है। कैथरीन सबसे तेज 125 किमी. प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाली पहली म​हिला गेंदबाज हैं। झूलन गोस्वामी विश्व की दूसरी सबसे तेज गेंदबाज मानी जाती हैं।

विकेटों के रिकॉर्ड पर हैं झूलन- 
झूलन गोस्वामी के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है। झूलन के नाम 192 वनडे मैचों में 240 विकेट हैं। झूलन के ​रिकॉर्ड के आसपास भी कोई दूसरी महिला गेंदबाज नहीं है। ऑस्‍ट्रेल‍िया की कैथरीन फ‍िजपैट्र‍िक 180 व‍िकेट लेकर दूसरे नंबर पर और 171 व‍िकेट लेकर वेस्‍टइंडीज की गेंदबाज अनीशा मोहम्‍मद तीसरे स्‍थान पर हैं।

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *