Menu
blogid : 312 postid : 1389715

विश्वकप 2019: जसप्रीत बुमराह से हार्दिक पांड्या तक, अपना पहला विश्व कप खेलेंगे ये खिलाड़ी

Shilpi Singh
Shilpi Singh 9 Mar, 2019

विश्वकप 2019 के लिए काफी कम समय बाकी है। इस टूर्नामेंट में शामिल होने वाली सभी टीमें अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम कॉम्बिनेशन की तलाश में है। विश्वकप का बारहवां संस्करण 30 मई 2019 से शुरू होने वाला है, जिसकी मेजबानी इंग्लैंड के हाथों में है। घर पर मौजूदा फॉर्म और अनुकूल परिस्थिति के चलते मेजबान इंग्लैंड अपने पहले विश्व कप खिताब जीतने के लिए एक मजबूत दावेदार होगा। इस बेहद दबाव और रोमांचक टूर्नामेंट में कई सारे ऐसे खिलाड़ी होंगे जो अपना पहला विश्व कप खेलेंगे। ऐसे में आइए कुछ भारतीय खिलाड़ियों पर नजर डाली जाए जो 2019 में अपना पहला विश्व कप खेल सकते हैं और अपने दमदार प्रदर्शन से भारत को तीसरी बार विश्व चैम्पियन बनाने का माद्दा रखते हैं।

 

 

1.जसप्रीत बुमराह

जनवरी 2016 में अपनी करियर की शुरुआत के बाद से बुमराह ने सभी प्रारूपों में भारत के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। वह बहुत ही कम समय के भीतर भारत के प्रमुख गेंदबाज बन गए और वर्तमान में वह नंबर 1 वनडे गेंदबाज हैं। 2016 में अपने वनडे करियर की शुरुआत के बाद से बुमराह ने 44 मैच खेला है, जहां उन्होंने 28.36 की स्ट्राइक रेट से 78 विकेट लिए और उनका इकॉनोमी रेट मात्र 4.45 का रहा है। भारतीय गेंदबाजी लाइन-अप में बुमराह का कोई विकल्प नहीं है और यह लगभग निश्चित है कि वह विश्व कप खेलेंगे। उनकी गेंदबाजी विश्व कप में भारत के अभियान में निर्णायक भूमिका निभाएगी।

 

 

2. हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या टीम को एक अच्छा संतुलन प्रदान करते हैं। वह मध्य क्रम में कहीं भी बल्लेबाजी कर सकते हैं और अंत के ओवरों में बड़ी हिट लगा सकते हैं। बड़ौदा के इस खिलाड़ी ने 2016 में अपना वनडे पदार्पण किया और अब तक उन्होंने 42 मैचों की 27 पारियों में 114.53 की शानदार स्ट्राइक दर और लगभग 30 के औसत से स्कोर किया है। उनके नाम 40 विकेट भी हैं।

 

 

3. केदार जाधव

केदार जाधव की साल 2018 में बेहद खराब शुरुआत हुई क्योंकि वह आईपीएल के शुरुआती मैच में ही हैमस्ट्रिंग की चोट के कारण बाहर हो गए थे। इसने उन्हें पूरे आईपीएल सत्र से बाहर रखा और वह इंग्लैंड दौरे पर भी उपलब्ध नहीं थे। हालांकि, उन्होंने एशिया कप टूर्नामेंट में टीम के लिए वापसी की, जहां उन्होंने उल्लेखनीय प्रदर्शन किया और भारत को खिताब डिफेंड करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। जाधव टीम इंडिया के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और अपने छोटे ओडीआई करियर में उन्होंने 42.09 के औसत से 884 रन बनाए हैं।

 

 

4. कुलदीप यादव

कुलदीप यादव सीमित ओवरों के मैच में भारत के लिए सबसे बड़े मैच विनर में से एक हैं। साल 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे हैट-ट्रिक के बाद से इस चाइनामैन गेंदबाज ने अपने करियर में पीछे मुड़कर नहीं देखा है और लगातार भारतीय टीम के लिए अच्छी गेंदबाजी की है। छोटे प्रारूपों में भारत के लिए सबसे बड़ा ट्रम्प कार्ड बनने में उन्हें बहुत लंबा समय नहीं लगा है। वह आने वाले विश्व कप में भारत की संभावनाओं की बहुत बड़ी कुंजी होंगे।

 

 

5. युजवेंद्र चहल

 

 

युजवेंद्र चहल पिछले दो सालों से सीमित ओवर प्रारूप में टीम इंडिया के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। उन्होंने जून 2016 में अपनी वनडे करियर की शुरुआत की। तब से चहल ने 34 एकदिवसीय मैचों में 4.75 की प्रभावशाली इकॉनमी दर से 56 विकेट लिए हैं। पिछले साल उनका दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया उन्होंने छह मैचों में19.5 की चौंकाने वाली स्ट्राइक रेट से 16 विकेट लिए। चहल की विकेट लेने की क्षमता इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप एक बड़ा अंतर पैदा करेगी। ऐसे में चहल 2019 का विश्व कप भारत के लिए खेल सकते हैं।…Next

 

Read More:

 लियोनेल मेसी के एक महीने की सैलरी है 67 करोड़ रुपए, जानें कितना कमाते हैं ये 4 फुटबॉलर

अगर ऐसा हुआ तो IPL से बाहर हो जाएंगे ये 15 खिलाड़ी, इन टीमों को होगा सबसे ज्यादा नुकसान

पीवी सिंधु से एमसी मैरीकॉम तक, करोड़ो में कमाते हैं ये मशहूर खिलाड़ी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *