Menu
blogid : 312 postid : 1389367

हॉकी विश्व कप: भारत के दिलप्रीत सिंह समेत इन युवा सितारों पर होगी पूरी दुनिया की नजर

Shilpi Singh

30 Nov, 2018

ओडिशा हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट में विभिन्न देशों की टीमों के कई बेहतरीन और लोकप्रिय खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं, लेकिन इनमें आगामी पीढ़ी के कई उभरते सितारे भी हैं। विश्व कप टूर्नामेंट में अधिकतर हॉकी प्रशंसकों की नजर छह ऐसे युवा खिलाड़ियों पर रहेगी, जो विश्व कप के जरिए वैश्विक रूप से अपने प्रदर्शन से सभी पर छाप छोड़ने वाले हैं।

 

 

1. दिलप्रीत सिंह

वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर पांच पर काबिज भारत के 19 वर्षीय दिलप्रीत सिंह उन्हीं में से एक खिलाड़ी हैं। पिछले साल मलेशिया में आयोजित हुए अंडर-21 सुल्तान जोहोर कप टूर्नामेंट में दिलप्रीत ने छह मैचों में नौ गोल दागकर अपनी क्षमता का परिचय दिया था। उनके इस प्रदर्शन से भारत की राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह काफी प्रभावित हुए और उन्होंने दिलप्रीत को सीनियर टीम में शामिल किया। अब वह विश्व कप में सबसे युवा खिलाड़ी बनने की कगार पर हैं।

 

 

2. जेक हार्वी( ऑस्ट्रेलिया)

इसके अलावा दुनिया की नंबर एक टीम आस्ट्रेलिया 20 वर्षीय जेक हार्वी का नाम भी इस सूची में शामिल है। तीन बार के ओलंपियन गोडरेन पियर्स के पोते हार्वी के खून में भी हॉकी दौड़ता है। पिछले साल हुए ओडिशा हॉकी विश्व कप में आस्ट्रेलिया के डिफेंस को मजबूत करने में हार्वी ने अहम भूमिका निभाई थी और इसी के दम पर टीम ने खिताबी जीत हासिल की थी। अपने अब तक के करियर में हार्वी 39 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं।

 

 

3. माइको कासेला( अर्जेंटीना)

दुनिया की नंबर दो टीम अर्जेंटीना के 21 वर्षीय माइको कासेला भी किसी से कम नहीं हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 35 मैच खेल चुके कासेला अर्जेंटीना की राष्ट्रीय टीम में शामिल सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं।

 

 

4. जोरिट क्रून( नीदरलैंड)

नीदरलैंड्स के 20 वर्षीय खिलाड़ी जोरिट क्रून के पास इतनी कम उम्र में ओलम्पिक खेलों का अनुभव है। वह उस समय में 18 साल के थे। दुनिया की चौथे नंबर की टीम के मुख्य कोच मैक्स काल्डास द्वारा क्रून को रियो ओलम्पिक खेलों के लिए चुने जाने के फैसले से काफी हलचल मच गई थी। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 56 मैच खेल चुके क्रून ने राष्ट्रीय टीम में अपनी अहम जगह बना ली है।

 

 

5. टिम हेर्जबुर्क ( जर्मनी)

रियो ओलम्पिक खेलों का अनुभव रखने वाले 21 वर्षीय टिम हेर्जबुर्क ने वर्ल्ड-6 जर्मनी की राष्ट्रीय टीम में अपनी जगह अपने दम पर बनाई है। लखनऊ में हुए उत्तर प्रदेश जूनियर हॉकी विश्व कप में उन्हें टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के पुरस्कार से नवाजा गया था। अब तक अपने करियर में 54 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके टिम को पिछले साल घुटने की चोट के कारण लंबे समय तक मैदान से बाहर रहना पड़ा, लेकिन अब वह वापसी कर चुके हैं और विश्व हॉकी में अपनी छाप छोड़ने के लिए तैयार हैं।

 

 

6. एनरीक गोंजालेज( स्पेन)

 

 

ओडिशा हॉकी विश्व कप में किसी भी टीम के लिए परेशानी खड़ी करने में स्पेन के 22 वर्षीय खिलाड़ी एनरीक गोंजालेज पूरी तरह से सक्षम हैं। स्पेन की राष्ट्रीय टीम में वह अपनी बेहतरीन तेजी और हॉकी स्टिक के साथ अपने शानदार कौशल के लिए जाने जाते हैं। 22 साल की उम्र में वह 73 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। इस टूर्नामेंट के छह उभरते खिलाड़ियों में शामिल एनरीक ने सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। उन्हें भी लखनऊ में हुए जूनियर हॉकी विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के पुरस्कार से नवाजा गया था।…Next

 

Read More:

सानिया और शोएब का बेटा किस देश का होगा नागरिक, क्रिकेटर ने दिया ये जवाब

चाइना की हैं बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा की मां, 6 साल में टूट गई थी ज्वाला की शादी

सड़क पर भीख मांगने को मजबूर पैरा-एथलीट, सरकार से नहीं कोई मदद

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *