Menu
blogid : 312 postid : 1390957

वनडे हाईएस्ट स्कोर 491 रन महिला टीम के नाम, सूजी बेट्स की कप्तानी में रचा गया था इतिहास

Rizwan Noor Khan

16 Sep, 2020

क्रिकेट इतिहास में सबसे बड़ा वनडे स्कोर वुमेन टीम के नाम दर्ज है। न्यूजीलैंड की महानतम खिलाड़ियों में शुमार सूजी बेट्स की कप्तानी में उनकी टीम ने 2018 में 490 रन का विशाल स्कोर खड़ाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया था। इतना बड़ा स्कोर आज तक कोई भी टीम नहीं बना सकी है। सूजी बेट्स ने खुद कई क्रिकेट रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। उन्हें न्यूजीलैंड वुमेन क्रिकेट का सबसे बड़ा नाम माना जाता है।

Pic : Suzie Bates Twitter

वुमेन क्रिकेट की लीजेंड सूजी बेट्स
न्यूजीलैंड ​वुमेन क्रिकेट टीम का हिस्सा रहीं सोफी डिवाइन सूजी बेट्स को क्रिकेट का लीजेंड मानती हैं। सूजी बेट्स 16 सितंबर को 33वां जन्मदिन मना रही हैं। सोफी डिवाइन ने आईसीसी से बात करते हुए कहा कि सूजी बेट्स ने जब से क्रिकेट खेलना शुरू किया तब वह बेस्ट क्रिकेटर हैं। न्यूजीलैंड टीम उन्होंने को कई शानदार और अद्भुद जीत दिलाई हैं। सूजी बेट्स वुमेंस आईसीसी टी20 रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हैं, जबकि सोफी डिवाइन चौथे स्थान पर हैं।

मैच के दौरान सूजी बेट्स बाएं और सोफी डिवाइन दाएं। Pic : Suzie Bates Twitter

भाइयों ने सिखाया क्रिकेट
न्‍यूजीलैंड में ओटागो राज्‍य के डुनेडिन शहर में 16 सितंबर 1987 को जन्‍मी सूजी बेट्स ने क्रिकेट का ककहरा अपने भाइयों से सीखा। उन्होंने पहली बार ऑफिशियल क्रिकेट 15 साल की उम्र में खेला था। तब वह हाईस्‍कूल में पढ़ती थीं। 2005 में ऑकलैंड के खिलाफ खेली गई ताबड़तोड़ पारी के बदौलत सूजी बेट्स को पहली बार विश्‍व क्रिकेट में पहचान मिली। इस मैच में सूजी बेट्स ने ओटागो के लिए ऑकलैंड के खिलाफ खेलते हुए 152 गेंदों में 183 रन ठोके थे। इसके बाद सूजी को न्‍यूजीलैंड की राष्‍ट्रीय महिला टीम में चुना गया था। सूजी ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि वह अपने भाई टॉम और हेनरी के साथ घर के पीछे वाले हिस्‍से में क्रिकेट खेलते देखती थीं।

भारत के खिलाफ अंतरराष्‍ट्रीय करियर का आगाज
सूजी ने अपने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट का आगाज भारतीय टीम के खिलाफ किया था। 4 मार्च 2006 को खेला गया यह वनडे मैच न्‍यूजीलैंड ने 7 विकेट खोकर जीत लिया था। 2007 में सूजी बेट्स को टी20 क्रिकेट टीम में भी शामिल किया गया। सूजी ने अपना पहला टी20 मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 10 अगस्‍त 2007 को टांटन में खेला। इस मैच में सूजी ने ताबड़तोड़ बल्‍लेबाजी करते हुए मात्र 37 गेंदों में 62 ठोक डाले। इस पारी में सूजी ने तेजतर्रार 11 चौके लगाए।

क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा वनडे स्कोर
2018 में न्‍यूजीलैंड महिला टीम की कप्‍तान रहीं सूजी बेट्स की बदौलत न्‍यूजीलैंड ने वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने विश्‍व रिकॉर्ड कामय कर दिया। 8 जून 2018 को आयरलैंड के खिलाफ मैच में न्‍यूजीलैंड ने 50 ओवर में 4 विकेट पर 491 रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया था। इतना बड़ा स्कोर कोई भी पुरुष या महिला टीम आज तक नहीं बना सकी है। इस मैच में सूजी बेट्स ने ताबड़तोड़ 94 गेंदों में 151 रन बनाए थे। यह उनकी दूसरी सर्वश्रेष्‍ठ पारी थी। न्‍यूजीलैंड ने यह मैच रिकॉर्ड 346 रनों से जीत लिया था।

वनडे मैचों में रिकॉर्ड के शिखर पर सूजी
सूजी ने अपने क्रिकेट करियर में रिकॉर्ड्स की झड़ी लगाई है। आईसीसी के मुताबिक सूजी अपने उम्‍दा प्रदर्शन की बदौलत 2013 और 2016 में आईसीसी महिला वनडे क्रिकेटर ऑफ द इयर का खिताब जीतने वाली खिलाड़ी बनीं। इसके अलावा सूजी न्‍यूजीलैंड के लिए वनडे क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाली महिला खिलाड़ी भी हैं। वनडे क्रिकेट में उन्‍होंने अब तक 115 पारियों में 4392 रन बनाए हैं। वनडे में 10 शतक लगाने वाली वह दुनिया की दूसरी महिला क्रिकेटर हैं। उनके खाते में 25 अर्द्धशतक के साथ कुल 532 बाउंड्री उनके नाम दर्ज हैं।

Pic : Suzie Bates Twitter

टी20 की सबसे विध्वंसक क्रिकेटर
सूजी बेट्स वनडे ही नहीं टी20 क्रिकेट में भी कई रिकॉर्ड अपने नाम रखती हैं। वह 2019 में वुमेन आईसीसी टी20 रैंकिंग में पहले नंबर थीं, अब वह दूसरे नंबर पर हैं। टी20 क्रिकेट में उन्हें सबसे विध्वंसक महिला क्रिकेटर कहा जाता है। 2016 में सूजी को आईसीसी महिला क्रिकेटर ऑफ द ईयर का खिताब दिया गया। टी20 क्रिकेट में उन्‍होंने सर्वाधिक 3100 रन बनाए हैं। टी20 में नॉटआउट सर्वाधिक 124 रन की सर्वश्रेष्‍ठ पारी सूजी ने खेली है। एक टी20 शतक और 21 अर्द्धशतक के साथ कुल 376 बाउंड्री सूजी के नाम दर्ज हैं।

Pic : Suzie Bates Twitter

बॉस्‍केटबॉल टीम के लिए ओलंपिक भी खेलीं
सूजी बेट्स की रग रग में खेल बसा हुआ है इस बात का अंदाजा आप उनके अंतरराष्‍ट्रीय बॉस्‍केटबॉल खिलाड़ी होने से लगा सकते हैं। जबर्दस्‍त एथलेटिक स्किल्‍स की धनी सूजी ने न्‍यूजीलैंड की महिला बॉस्‍केटबॉल खिलाड़ी के तौर पर 2008 में चीन के बीजिंग में आयोजित हुए ओलंपिक खेलों में हिस्‍सा लिया। इस दौरान वह टीम की कप्‍तान भी रहीं। बाद में क्रिकेट में करियर संवारने के इरादे से सूजी ने बॉस्‍केटबॉल को अलविदा कह दिया और क्रिकेट को अपना लिया।…NEXT

 

 

Read More :  रिकॉर्ड बनाने से कुछ कदम दूर हैं मैक्सवेल

भारत ने पाकिस्तान को बॉल आउट में दी थी सबसे शर्मनाक हार

वुमेन क्रिकेट की सचिन कही जाती है ये क्रिकेटर

एक इंच के फासले से ली गई कैच ने हरा दिया मैच

बास्केटबॉल स्कोरर को दिल दे बैठे ईशांत शर्मा

 

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *