Menu
blogid : 312 postid : 1388990

जेवलिन थ्रो के गोल्ड मेडलिस्ट नीरज बनना चाहते थे कबड्डी खिलाड़ी, जाने खास बातें

नीरज चोपड़ा ने इंडोनेशिया में खेले जा रहे 18वें एशियन गेम्स में सोमवार को जेवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीत लिया है।  चोपड़ा एशियन गेम्स में यह मेडल जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। अब तक कोई एथलीट भाला फेंक में स्वर्ण पदक हासिल नहीं कर पाया था, लेकिन नीरज चोपड़ा ने भारत की तरफ से जेवलिन थ्रो में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। नीरज ने 88.06 मीटर भाला फेंका और जेवलिन थ्रो में भारत को पहला गोल्ड दिलाया। तो चलिए जानते हैं आखिर कैसा रहा है नीरज का सफर।

Shilpi Singh
Shilpi Singh 28 Aug, 2018

 

 

 

किसान के बेटे हैं नीरज चोपड़ा

भारत को गोल्ड दिलाने वाले नीरज हरियाणा के पानीपत स्थित खंदारा गांव के रहने वाले हैं। नीरज का जन्म 24 दिसंबर को हुआ है और उनके पिता सतीश कुमार पेशे से किसान हैं और इसी से उनका घर चलता है।

 

 

कबड्डी छोड़ जेवलिन थ्रो में हाथ आजमाया

आज जो नीरज जेवलिन थ्रो में दुनिया में भारत का नाम ऊंचा कर रहे हैं वो दरअसल एक कबड्डी खिलाड़ी बनना चाहते थे। 13 साल की उम्र में नीरज अपने गांव से कुछ ही दूर पानीपत के शिवाजी नगर स्टेडियम में कबड्डी की प्रैक्टिस करने जाने लगे। लेकिन एक दोस्त की सलाह पर उन्होंने कबड्डी छोड़ जेवलिन थ्रो में हाथ आजमाया। बस यहीं से एथलेटिक्स में नीरज का वो सफर शुरू हुआ जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

 

 

कुछ ऐसा रहा सफर

चोपड़ा की पहली यादगार जीत 2012 में लखनऊ में नेशनल जूनियर चैंपियनशिप में आई थी। उस टूर्नामेंट में चोपड़ा ने अंडर-16 स्पर्धा में 68.46 मीटर भाला फेंककर राष्ट्रीय उम्र-समूह रिकॉर्ड बनाया था और स्वर्ण पदक जीता। 2013 नेशनल यूथ चैंपियनशिप में नीरज ने एक बार फिर शानदार प्रदर्शन किया, उन्होंने दूसरा स्थान हासिल करते हुए उस वर्ष यूक्रेन में होने वाली आईएएएफ वर्ल्ड यूथ चैंपियनशिप में जगह पक्की की।

 

 

नीरज की अबतक की बड़ी उपल्बधियां

 

 

नीरज चोपड़ा साल 2016 में उस वक्त हाईलाइट हुए थे, जब उन्होंने जूनियर विश्व चैंपियनशिप में 86.48 मीटर भाला फेंककर विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा किया था। इसके अलावा उन्होंने 85.23 मीटर का भाला फेंककर 2017 एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भी गोल्ड मेडल जीता था। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए 2018 राष्ट्रमण्डल खेलों में नीरज ने 86.47 मीटर भाला फेंककर गोल्ड मेडल अपने नाम किया था और एशियन गेम्स में भी उन्होंने यही गोल्डन प्रदर्शन जारी रखा।…Next

 

Read More:

ब्राजील के गोलकीपर एलिसन के लिए लगाई गई रिकॉर्ड बोली, इस टीम का बनेंगे हिस्सा

फीफा वर्ल्ड कप विजेता फ्रांस 260 करोड़, तो बाकी टीमें घर ले गईं इतना पैसा

जल्द ही होगा फुटबॉल विश्व कप के विजेता का फैसला, बीते 10 फाइनल मुकाबलों में यह टीमें बनीं विश्व विजेता

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *