Menu
blogid : 312 postid : 1391534

ये हैं हर साल मेडल जीतने वाली पहलवान, घर में सबके सब अंतरराष्ट्रीय रेसलर

Rizwan Noor Khan

20 Nov, 2020

रे​सलिंग में भारत का विश्वपटल पर हमेशा ही दबदबा रहा है। हर साल कई पहलवान विश्व कुश्ती चैंपियनशिप, कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियाई खेलों में मेडल्स लाते हैं। देश की एक ऐसी पहलवान है जो हर साल मेडल ​जीतती हैं। हम बात कर रहे हैं महिला पहलवान बबिता फोगाट की। बबिता कॉमनवेल्थ गेम्स, विश्व रेसलिंग चैपिंयनशिप, कामनवेल्थ चैंपियनशिप और ओलंपिक में अपनी कुशलता का लोहा मनवा चुकी हैं। 20 नवंबर को बबिता के जन्मदिन पर जानते हैं उनकी जिंदगी के बारे में।

Image courtesy : Babita Phogat Instagram

बचपन में ही पहलवानी शुरू की
हरियाणा के भिवानी में 20 नवंबर 1989 में द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित महावीर फोगाट के घर दूसरी बेटी ब​बिता का जन्म हुआ। परिवारिक खेल कुश्ती को अपनाते हुए ​बबिता भी बड़ी बहन गीता फोगाट के साथ पहलवान बन गईं। अखाड़े में लड़कियों को लड़कों के साथ लड़ते देख लोग महावीर फोगाट का मजाक बनाते थे। पर बड़ी होकर उनकी बेटियों ने उन्हें विश्वस्तर पर ख्याति हासिल कराई।

पिता, पति और बहनें सब पहलवान
बबिता फोगाट के घर में सभी पहलवान हैं। बबिता के पिता महावीर फोगाट ओलंपिक कोच रहे हैं और उन्हें द्रोणाचार्य पुरस्कार से सरकार सम्मानित कर चुकी है। बबिता की बहन गीता फोगाट, रितू और संगीता भी अंतराष्ट्रीय पहलवान हैं। बबिता की कजन सिस्टर्स विनेश और प्रियंका फोगाट भी पहलवान हैं। भाई की हत्या होने के बाद महावीर फोगाट ने अपनी भतीजी प्रियंका और विनेश की परवरिश की। बबिता के पति विवेक सुहाग भी अंतरराष्ट्री पहलवान हैं।

Image courtesy : Babita Phogat Instagram

कॉमनवेल्थ गेम्स 2009 में तहलका मचाया
बचपन से ही अखाड़े में पहलवानी करने वाली बबिता ने बड़ी बहन गीता फोगाट से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परफॉर्म करने का तरीका सीखा और प्रेरणा ली। बबिता ने पहला अंतरराष्ट्रीय अवॉर्ड 2009 में जालंधर में कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में 51 किलो कैटेगरी में बतौर गोल्ड जीता था। इसके बाद बबिता की जीत का जो सिलसिला शुरू हुआ वह कभी रुका नहीं।

Image courtesy : Babita Phogat Instagram

9 साल से रेसलिंग में दबदबा कायम
बबिता ने 2010 में मेलबर्न आस्ट्रेलिया में हुए कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में 48 किलो कैटेगरी में भाग लिया। इस चैंपियनशिप में ब​बिता ने अपना दूसरा अंतरराष्ट्रीय गोल्ड मेडल हासिल किया। इसके बाद 2018 तक बबिता ने अंतररराष्ट्रीय मेडल्स हासिल किए। बबिता के नाम 3 गोल्ड, 2 सिल्वर और 2 ब्रांज मेडल हैं। इसके अलावा भी बबिता ने राष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल्स हासिल किए हैं।

Image courtesy : Babita Phogat Instagram

टीवी शो, शादी और राजनीति
जून 2019 में बबिता फोगाट ने अपने साथी पहलवान विवेक सुहाग से शादी करने का फैसला किया और सगाई कर ली। इसी साल दोनों पहलवान बतौर जोड़ी टीवी डांस रियलिटी शो नच बलिये में भी शामिल हुए। नवंबर 2019 में बबिता और सुहाग ने शादी कर ली। 2019 में बबिता ने पॉलिटिक्स में एंट्री करते हुए भाजपा के टिकट पर हरियाणा विधानसभा चुनाव में दादरी सीट से लड़ीं पर हार गईं। बबिता फिलहाल आने वाले कुश्ती चैंपियनशिप की तैयारियों में व्यस्त चल रही हैं। ​बबिता और गीता फोगाट के रेसलर बनने की कहानी पर आमिर खान दंगल फिल्म बना चुके हैं।…NEXT

 

ये भी पढ़ें : महिला पहलवान साक्षी मलिक की दिलचस्प कहानी

बांग्लादेश के शाकिब अल हसन पर लगा बैन की अवधि पूरी

10 बल्लेबाज जिन्हें फुटबॉल की तरह दिखी बॉल और जड़े दोहरे शतक

आईपीएल 2020 के बेस्ट प्लेयर्स की लिस्ट देखें

टी20 इतिहास का वो मैच जिसमें 10 बल्लेबाज शून्य पर पवेलियन लौटे

5 बल्लेबाज जिनके इशारों ने लूट ली महफिल, जड़ेजा और हार्दिक छाए

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *