Menu
blogid : 312 postid : 971

पहला सत्र होगा महत्वपूर्ण

Kallis In Action after Scoring his 39th Test Hundred
Kallis In Action after Scoring his 39th Test Hundred
क्रिकेट में जब भी बात महान खिलाड़ियों की आती है तो हम सचिन, ब्रेडमैन, लारा, विवियन रिचर्ड्स, पोंटिंग, सुनील गावसकर, मुरलीधरन, वार्न की बात करते हैं लेकिन इन सब के बीच एक खिलाड़ी ऐसा है जिसके नाम कई रिकॉर्ड हैं जिसे हम आसानी से विश्व का सबसे अच्छा ऑलराउंडर कह सकते हैं वह है कालिस.

अभी हाल ही में पूरे क्रिकेट जगत में सचिन के पचासवें शतक का होहल्ला था लेकिन कल कालिस का 39 वां शतक उससे कम नहीं था. इसके साथ ही उन्होंने पोंटिंग के टेस्ट क्रिकेट में 39 वां शतकों की बराबरी भी कर ली. और अब शायद पोंटिंग के फॉर्म को देख हम आसानी से कह सकते हैं कि टेस्ट क्रिकेट में सचिन के बाद सबसे ज़्यादा शतक जड़ने का रिकॉर्ड कालिस का ही है.

न्यूलैंड्स में जिस तरह से कालिस ने एक छोर संभाले रखा उससे यह प्रतीत होता है कि संयम और जुझारूपन हो तो आप किसी भी विकेट पर रन बना सकते हैं. अपनी 161 रनों की पारी में कालिस ने न केवल रक्षात्मक खेल का प्रदर्शन किया बल्कि उन्होंने मौका पड़ने पर पुछल्ले बल्लेबाजों को अपने इर्दगिर्द खिलाया. जिसके तहत दक्षिण अफ्रीका ने न्यूलैंड्स की बाउंस खाती पिच पर 362 का स्कोर बनाया जो बहुत अच्छा स्कोर है.

जवाब में भारत ने अब तक अच्छा खेल खेला है, खासकर गंभीर की पारी जिसमें पिच पर टिकने का पूरा ज़ोर था और अगर कोई बल्लेबाज़ ऐसा कर ले तो रन अपने आप ही बनते हैं.

अभी तक के मैच का विवरण यही कहता है कि दोनों टीमों का पलड़ा बराबरी पर है. इस लिहाज से आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है. अगर भारत के बल्लेबाज़ अच्छा स्कोर खड़ा करते हैं तो पलड़ा उनकी तरफ़ झुक जाएगा लेकिन कहीं दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाज़ हावी हो गए तो मैच भारत की पकड़ से खिसक सकता है. इस समय पिच पर भारत की सबसे अहम जोड़ी है जिसने रन भी बनाए हैं और जो पिच के मिजाज़ के वाकिफ़ भी है अतः यह ज़रुरी हो जाता है कि यह जोड़ी टिकी रहे. यह इसलिए भी ज़रुरी है क्योंकि अगर भारत बिना विकेट खोए सुबह का सत्र निकाल देता है जो स्मिथ पर दबाव बढ़ जाएगा. फिर स्मिथ को रन बचाने की भी कोशिश करनी होगी जिससे जहां अभी तीन स्लिप हैं वहीं केवल एक स्लिप होगी. न्यूलैंड्स की बाउंस वाली पिच में स्लिप का क्षेत्र बहुत महत्वपूर्ण हैं लेकिन अगर वह खाली हो गया तो बल्लेबाजों पर दबाव कम होगा और वह खुलकर बल्लेबाज़ी कर सकेंगे.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *