Menu
blogid : 312 postid : 134

क्या आंकड़ों के खेल में होगी धोनी की जीत


क्या टीम इंडिया सेमी-फाइनल तक का सफर तय कर पाएगी? क्या धोनी की किस्मत फिर चमकेगी? क्या भज्जी करेंगे बल्ले-बल्ले? क्या पाकिस्तान की तरह आंकड़े देंगे भारतीयों का साथ? इन सब सवालों का जवाब देना अभी कठिन है लेकिन किसी हद तक यह लड़ाई अब आकड़ों की हो गई है और अगर आंकड़ों ने साथ दिया तो शायद टीम इंडिया भी खेलेगी सेमी-फाइनल.

क्या है आंकड़ों का खेल

आंकड़ों का खेल मतलब बेहतर रन-गति. अभीतक ग्रुप-एफ में सभी टीमों ने दो-दो मुकाबले खेले हैं. ऑस्ट्रेलिया ने अभी तक खेले अपने दोनों मैच जीते हैं. वह अंकतालिका में पॉज़िटिव रन-गति के साथ पहले नंबर पर है. वहीं वेस्टइंडीज और श्रीलंका ने एक-एक मैच जीते हैं, परन्तु बेहतर रनगति होने के कारण वेस्टइंडीज दूसरे नंबर पर है. भारत ग्रुप-एफ में अपने दोनों मैच हार कर आखिरी पायदान पर है परन्तु इसके बावजूद भारत सेमी-फाइनल के लिए क्वालिफाई कर सकता है.

ग्रुप-एफ अंकतालिका

टीम

खेले

जीते

हारे

अंक

रन-गति

ऑस्ट्रेलिया

2

2

0

4

3.25

वेस्टइंडीज

2

1

1

2

-0.6

श्रीलंका

2

1

1

2

-1.075

भारत

2

0

2

0

-1.575

अगर हम ग्रुप-एफ की बात करते हैं तो ऑस्ट्रेलिया ने सेमी-फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है परन्तु सेमी-फाइनल में जाने वाली दूसरी टीम कौन होगी इसका फैसला आज खेले गए मैचों से होगा. आज जहाँ पहले मुकाबले में टीम इंडिया की भिड़ंत लंकाई चीतों से होगी वहीं दूसरे मुकाबले में ऑस्ट्रेलियन कंगारू के सामने कैरेबियाई कल्लैप्सो होंगे. प्रतियोगिता की दृष्टि से दोनों ही मैच बहुत महत्पूर्ण हैं. भारत, श्रीलंका और वेस्टइंडीज इन तीनों में से कोई भी टीम सेमी-फाइनल में अपनी जगह बना सकती है.

कैसे पहुंच सकता है भारत सेमी-फाइनल में

CRICKET-T20दो मैचों के बाद भारत की रनगति -1.575 है, वहीं श्रीलंका की रनगति -1.075 और वेस्टइंडीज की रनगति -0.6 है. अगर भारत को सेमी-फाइनल में जगह बनानी है तो उसे श्रीलंका को बहुत ही अच्छी रनगति से हराना होगा और वहीं वेस्टइंडीज को ऑस्ट्रेलिया से हारना होगा. बेहतर रनगति बनाने के लिए भारत को श्रीलंका के खिलाफ़ कम से कम 30 रनों से जीत हासिल करनी होगी या लक्ष्य का पीछा 3.3 ओवर रहते करना होगा.

अगर भारत पहले खेलता है तो उसे निर्धारित 20 ओवरों में कम से कम 180 रन बनाने होंगे और फिर गेंदबाजों को श्रीलंका को 150 रन से ज़्यादा नहीं बनाने देना होगा. मतलब कम से कम भारत को पहले खेलते हुए श्रीलंका के खिलाफ़ 30 रन से जीत दर्ज करनी होगी. परन्तु अगर भारत बाद में बल्लेबाज़ी करता है तो उसे श्रीलंका को 152 रन से आगे नहीं बढ़ने देना होगा और निर्धारित लक्ष्य को 16.3 ओवर से पहले हासिल करना होगा. अगर ऐसा होगा तो भारत की रन गति वेस्टइंडीज और श्रीलंका से बेहतर हो जाएगी और तीनों के अंकतालिका में दो-दो अंक हो जाएंगे और भारत बढ़िया रनगति के साथ सेमी-फाइनल में प्रवेश कर लेगा.

एक बाद एक क्रिकेट में 10 कप जीतने वाले भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को किस्मत का धनी भी कहा जाता है और आज उनको अपनी किस्मत की सबसे अधिक ज़रूरत है. परन्तु इसके साथ-साथ टीम के खिलाड़ियों को भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा. जहाँ उसके बल्लेबाज़ों को जम कर रनों की बरसात करनी होगी वहीं उसके गेंदबाजों को रन रोकने के साथ-साथ विकेट भी लेने होंगे.

चमकी पाकिस्तान की किस्मत

CRICKET-T20WC-PAK-BANगत चैंपियन पाकिस्तान ने कल अपने सुपर-आठ मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को हरा कर सेमी-फाइनल में जगह बना ली है. एक समय अपने दोनों सुपर-आठ के मुकाबले हार कर पाकिस्तान बाहर होने की कगार पर था परन्तु पाकिस्तान के अजमल की फिरकी और इंग्लैंड के मोर्गन के बल्ले का ऐसा जादू चला कि पाकिस्तान ने आंकड़ों के खेल में बाजी मार ली.

पाकिस्तान को सेमी-फाइनल में पहुंचने के लिए दक्षिण अफ्रिका को हराना जरुरी था वहीं उसे यह भी देखना था कि इंग्लैंड न्यूजीलैंड को हरा दे. और कल ऐसा ही कुछ देखने को मिला जहाँ पाकिस्तान 11 रनों से विजयी रहा वहीं इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को तीन विकेट से हरा दिया. इस तरह बेहतर रनगति के होते पाकिस्तान ने इंग्लैंड के साथ ग्रुप-ई से सेमी-फाईनल में प्रवेश कर लिया.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *